साजिश के तहत पार्टी को बदनाम करने की कोशिश कर रही है BJP: AAP

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी में जारी घमसान थमने का नाम नहीं ले रहा, दोनों पक्षों से आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है। पार्टी से बागी हुए नेता कपिल मिश्रा पार्टी के संयोजक पर तरह-तरह के भ्रष्टाचार के आरोप लगा रहें है। इन आरोपों का खंडन करते हुए पार्टी का कहना है कि ये सारे आरोप बेबुनियाद है और मिश्रा बीजेपी से मिल कर पार्टी के अस्तित्व को खतम करना चाहते है। आज एक बार फिर कपिल मिश्रा ने अरविंद केजरीवाल पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया तो पार्टी के प्रवक्ता संजय सिंह जवाब के लिए मीडिया से मुखातिब हुए।



मीडिया से मुखातिब होते हुए संजय सिंह ने कहा कि पार्टी के ऊपर बीजेपी और कपिल मिल कर फर्जी आरोप लगा रहे है जिससे पार्टी की छवि खराब हो और पार्टी अपनी वजूद खो दे। जिस साजिश के तहत मिश्रा को बीजेपी मोहरा बनाई हुई है यह बात जनता समझ रही है। मिश्रा को भी अब पार्टी के ऊपर बेबुनियाद आरोप लगाना बंद कर देना चाहिए। आगे संजय सिंह का कहना था कि बीजेपी का इकलौता मकसद केजरीवाल को बदनाम करना और आम आदमी पार्टी के वजूद को खत्म करना है। सिंह ने आरोप लगाया कि कपिल मिश्रा और बीजेपी में सांठगांठ है और केजरीवाल के पूर्व मंत्री एक झूठ को सौ बार दोहराकर सच साबित करने की हिटलरशाही नीति पर चल रहे हैं।



संजय सिंह ने मिश्रा के 2 करोड़ के चंदे के आरोपों को निराधार बताया। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी सौ फीसदी नियमों के मुताबिक चंदा लेती है। उनकी मानें तो पार्टी हर तरह के फंड और चंदे की जानकारी आयकर विभाग के साथ चुनाव आयोग को भी देती है। उनका कहना था कि सभी सरकारी एजेंसियां बीजेपी के इख्तियार में हैं और अगर आम आदमी पार्टी गलत होती तो कार्रवाई हो चुकी होती।




बीजेपी-कांग्रेस की हो जांच’
संजय सिंह ने कांग्रेस और बीजेपी के अवैध चंदों की जांच की भी मांग की। उन्होंने आरोप लगाया कि दोनों पार्टियों ने वेदांता, यूनियन कार्बाइड और राधा टिमरू जैसी विदेशी कंपनियों से अवैध चंदा लिया है। सिंह का कहना था कि इस चंदे की जांच के बजाए मोदी सरकार ने कानून में ही बदलाव कर दिया है।

Loading...