बच्चा चोर होने की आशंका पर ग्रामीणों ने सात लोगों को मार डाला

32

झारखंड। खरसवां जिले के राजनगर थाना क्षेत्र में ग्रामीणों द्वारा सात लोगों की हत्या का मामला सामने आया है। बच्चा चोर होने की शक के बिनाह पर ग्रामीणों ने इस वारदात को अंजाम दिया है। साथ ही मौके पर पहुंची पुलिस पर भी पथराव करते हुए पुलिस की गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया है।




दरअसल यह पूरा मामला शुक्रवार तडके सुबह का है जब गांव में कुछ संदिग्धों के होने की खबर फ़ैली। गांव में अंजान लोगों के कारण अफवाह फ़ैली कि ये तो बच्चा चोरी करने वाले है। इसके बाद से यह बात आग की तरह पूरे इलाके में फ़ैल गयी। जिसके बाद गुस्साये ग्रामीणों ने सातो संदिग्धों की मार-मारकर हत्या कर डाला। घटना स्थल पर पहुँची पुलिस भी ग्रामीणों के गुस्से का शिकार हुई, ग्रामीणों ने पुलिस पर भी पथराव किया। साथ ही गाड़ियों को भी आग के हवाले कर दिया। ग्रामीणों का मानना था कि ये लोग गांव में आते है और बच्चों को अगवा कर के ले जाते है।



पुलिस के मुताबित यह वारदात राजनगर थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले एक इलाके में हुई है जिसके बाद नाराज स्थानीय लोगों ने पुलिस की दो गाडि़यों को आग लगा दी। नगर पुलिस अधीक्षक प्रशांत आनंद ने कहा कि ग्रामीणों ने नागदिह में बच्चा चोर होने के संदेह में तीन व्यक्तियों की पीट-पीट कर कल रात हत्या कर दी। यह इलाका बागबेरा थाना क्षेत्र के तहत आता है।




आनंद ने कहा कि दो मृतकों की पहचान जुगसालाई निवासी उत्तम वर्मा और बागबेरा निवासी गणेश कुमार गुप्ता के तौर पर हुई है। उन्होंने कहा कि बाकियों की शिनाख्त अभी तक नहीं हो पाई है। उन्होंने कहा कि घटना में एक वृद्ध महिला जख्मी हुई है और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

In this article