BJP कोई टोला नहीं बल्कि देशभक्तों का संगठन है: अमित शाह

लखनऊ। राजधानी स्थित बीजेपी कार्यालय में मंगलवार को BJP कार्यसमिति की बैठक हुई जिसमे पार्टी प्रमुख अमित शाह ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए ‘मिशन 2019’ के लिए मंत्र फूंका। इस दौरान शाह ने अन्य पार्टी का उदाहरण देते हुए कार्यकर्ताओं को आगाह किया कि हमे अपनी अलग पहचान बनानी है। BJP के कार्यकर्ता BSP और SP के जैसे नहीं हैं, और उन्हें कुछ अलग करके दिखाना होगा। बीजेपी प्रमुख ने कहा कि UP में मिली बड़ी जीत के साथ पार्टी की जिम्मेदारी भी बड़ी है इसलिए BJP कार्यकर्ताओं में विजयभाव के साथ विनम्रता भी बहुत जरूरी है। BJP पर UP के संपूर्ण विकास का जिम्मा है।




पार्टी के कार्यकर्ताओं का हौसला अफजाई करते हुए शाह ने कहा कि BJP कोई टोला नहीं बल्कि देशभक्त कार्यकर्ताओं का संगठन है। पार्टी का इतिहास बताते हुए शाह ने कहा कि, ’10 सदस्यों से बनने वाली पार्टी 11 करोड़ की पार्टी बन गई। जो पार्टी कभी जमानत बच जाने पर पार्टी करती थी, आज उसके 1387 विधायक हैं। 70% जनसंख्या और 60% भू-भाग पर BJP का शासन है।’



उन्होंने UP में BJP की बड़ी जीत का श्रेय पार्टी कार्यकर्ताओं को देते हुए कहा कि वह कभी आराम से नहीं बैठे। उन्होंने कहा, ‘जिस बूथ पर पार्टी नहीं जीती है, उस पर भी कार्यकर्ता काम करें और पार्टी को मजबूत स्थिति में लाएं। UP ने 325 सीटें दी हैं तो काम करने की जिम्मेदारी BJP की है। विजय के साथ-साथ हमारे कार्यकर्ता को विनम्र बनना होगा और जवाबदेही भी लेनी होगी।



विजय कभी दायित्वबोध तो कभी अंहकार का भाव का निर्माण करती है। अगर हम जनकल्याण के लिये आगे बढ़ते हैं, विन्रमता का भाव रखते हैं तो यह कर्तव्यबोध होगा, छुट्टी पर चले गए तो आलस्यबोध होगा। हमने सरकार MLA, मंत्री या योगी को CM बनाने के लिये नही बनाई बल्कि व्यवस्था परिवर्तन के लिये बनाई है।

Loading...