फिल्मों का झांसा देकर उतरवाये एक्ट्रेस के कपड़े, अब खा रहा जेल की हवा

720

लखनऊ। हाल ही में रिलीज हुई एक डॉक्युमेंट्री फिल्म के डायरेक्टर के कारनामों ने ग्लैमर जगत में हलचल मचा दी है। इस डॉक्युमेंट्री फिल्म में काम करने वाली एक्ट्रेस ने डायरेक्टर पर कई गंभीर आरोप लगाये हैं। हालांकि डायरेक्टर घोटाले के आरोप में सलाखों के पीछे हैं। हम बात कर रहे हैं हाल ही मे रिलीज हुई डॉक्युमेंट्री फिल्म सुराग की, इस डॉक्युमेंट्री फिल्म में काम करने वाले टीम के लोगों ने डायरेक्टर राजेश्वर पांडे पर कई खुलासे किये हैं।




आरोपी राजेश्वर पांडे 29 मई से जेल में बंद है। फिल्म में बतौर लीड एक्ट्रेस अर्चना का कहना है, फिल्म का डायरेक्टर सेट पर लड़कियों के साथ गंदी हरकतें करता था। आइटम डांस वाले कपड़े पहनने को कहकर अश्लील हरकतें करने की कोशिश करता था। अर्चना का कहना है, राजेश्वर ने फिल्म पूरी करने के नाम पर 10 लाख रुपए मांगे थे। उसने 7 लाख तो लौटा दिए, लेकिन 3 लाख अभी भी बाकी हैं।


फिगर चेक करने के नाम पर कपड़े उतरवाये—-

फिल्म में काम करने वाले क्रू मेंबर्स का कहा है, राजेश्वर खुद को मधुर भंडारकर समझता था। वो लड़कियों से फिगर चेक करने के नाम पर कपड़े उतारने को कहता था। यही नहीं, फिल्म में भी ज़बरदस्ती के अश्लील और फूहड़ सीन डाले गए। लड़कियों को बड़ी हीरोइन बनाने के नाम पर उनका शोषण करता था। कितनी मॉडल्स इससे डर कर भाग गईं।

बकाया मांगने पर किया चाकू से हमला—

फिल्म के प्रोडूसर संतोष कुमार ने बताया कि राजेश्वर ने फिल्म बनाने के नाम पर बड़ी रकम ऐंठी। सने मुझसे 27 लाख रुपए ऐंठे। जो फिल्म बनाई वो बेहद घटिया थी। संतोष का कहना है, 4 साल में बनी फिल्म में राजेश्वर ने कुल 2 लाख रुपए खर्च किए थे। राजेश्वर ने तुषार नाम के व्यक्ति से उसने 150 सिनेमा हॉल में फिल्म रिलीज करवाने का झांसा देकर 31 लाख रुपए ऐंठे और पैसा वापस मांगने पर 31 लाख का चेक दिया, जो बाउंस हो गया। तुषार जब अपना पैसे लेने राजेश्वर के पास पहुंचा तो राजेश्वर ने तुषार पर चाकू से हमला कर दिया। गोमती नगर पुलिस थाने में इस हमले की एफआईआर हुई और बीते 29 मई को राजेश्वर गिरफ्तार कर लिया गया।


In this article