भारत बनाम पाक वनडे: पाकिस्तान के सामने 320 रनों का लक्ष्य

186

नई दिल्ली। आईसीसी चैम्पियन्स ट्राफी 2017 में भारत और पाकिस्तान के बीच खेेले जा रहे ग्रुप बी के मुकाबले में भारतीय टीम ने पाकिस्तानी टीम के सामने 320 रनों जैसा पहाड़ सा दिख रहा लक्ष्य रखा है। दो बार बारिश के चलते रुके खेल की शुरूआत में टॉस पाकिस्तान ने जीता लेकिन उसके बाद बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम ने खेल को पूरी तरह से अपनी पकड़ में बनाए रखा। बारिश के बाद पारी के ओवरों की सीमा 50 से घटाकर 48 कर दी गई।




भारतीय पारी की शुरुआत रकने उतरी रोहित शर्मा और शिखर धवन ने भारत को 136 रनों की सधी हुई शुरुआत दी। भारत का पहला विकेट शिखर धवन (68) के रुप में गिरा। जिसके बाद कप्तान विराट कोहली ने रोहित शर्मा के साथ पारी को आगे बढ़ाया। भारत का दूसरा विकेट रोहित शर्मा के रूप में 192 रनों के स्कोर पर गिरा। रोहित शर्मा ने अपनी शानदार पारी में 91 रन बनाए।




रोहित शर्मा के आउट होने के बाद क्रीज पर आए युवराज सिंह ने अपने स्वभाव के अनुरूप 53 रनों की शानदार पारी खेली। उन्होंने 32 गेंदों में 8 चौके और 1 छक्का लगाकर पूरे मैच की दिशा को बदल दिया। युवराज सिंह 285 के स्कोर पर पवेलियन वापस लौटे तो उनके बाद विराट कोहली का साथ देने पहुंचे हार्दिक पाड्या 6 गेंदों में 20 रन बनकर नाबाद लौटे पाड्या ने 48वें ओवर की शुरुआती तीन गेंदों पर छक्का जड़कर भारत के स्कोर को 319 रन के योग तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई। वहीं भारत को मजबूत स्थिति में पहुंचाने में कप्तान विराट कोहली ने भी जबर्दस्त तरीके से अपनी लय को वापस पाते हुए 81 रन बनाए उन्होंने अपनी इस नाबाद पारी में 6 चौके और 3 छक्के जड़े।




अगर पाकिस्तानी क्षेत्ररक्षण और गेंदबाजी की बात की जाए तो इस मुकाबले में क्षेत्ररक्षण ने पाकिस्तानी टीम को कई बार मैच पर पकड़ बनाने से दूर कर दिया। पाकिस्तानी फील्डरों ने दो अहम कैच छोड़े जिसमें पहला कैच युवराज सिंह का था। उस समय युवराज 19 रनों के निजी स्कोर पर खेल रहे थे। वहीं दूसरा कैच छूटा कप्तान विराट कोहली का जो आखिरी ओवरों में पाकिस्तानी गेंदबाजों पर भारी पड़ा।

हालांकि क्षेत्ररक्षण की तुलना में पाकिस्तानी गेंदबाजों का प्रदर्शन बेहतर रहा। वहाव रियाज सबसे महंगे गेंदबाज साबित हुए उन्होंने 8.4 ओवरों में 87 रन दिए। शादाब खान और हसन अली को एक—एक सफलता मिली। वहीं इस मुकाबले में पाकिस्तानी टीम के दो गेंदबाज चोटिल भी हुए।

In this article