18 साल के इस भारतीय ने बना डाला दुनिया की सबसे छोटा सैटेलाइट, NASA करेगा लॉन्च

365

तमिलनाडु। महज 18 साल की उम्र में रिफत शारुक नामक इस भारतीय युवक ने वह कारनामा कर दिखाया है जिसकी मात्र कल्पना ही की जा सकती है। तमिलनाडु का रहने वाला रिफत शारूक ने दुनिया का सबसे छोटा सैटेलाइट बना सबको चौका दिया है। इस कारनामे के बाद 18 वर्षीय इस युवक की दुनिया भर में चर्चा हो रही है। बता दें कि रिफत शारुक द्वारा बनाए गए इस सैटेलाइट को NASA जल्द ही लॉन्च करेगा।



टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक तमिल नाडु के एक छोटे से शहर पल्लापट्टी में रहने वाले रिफत ने यह काम किया है। रिफत द्वारा बनाई गयी छोटी सी सैटेलाइट का वजन महन 64 ग्राम है और यह किसी क्यूब की तरह दिखती है। यह इतनी हल्की है कि इसे कोई भी अपने हाथ में ले सकता है। खबर के मुताबिक NASA इसे आगामी 21 जून को अपनी फेसिलिटी वलूप्स आइलैंड से लॉन्च करेगा। सैटेलाइट को कलमसैट नाम दिया गया है।



रिफत के अनुसार लॉन्च फ्लाइट एक सब-ऑर्बिटल फ्लाइट होगी। पूरे मिशन का टाइमस्पैन 240 मिनट का होगा और सैटेलाइट 12 मिनट तक ऑपरेट करेगी। वहीं इस सैटेलाइट के काम की बात करें तो खबर के मुताबिक यह 3-D प्रिंटेड कार्बन फाइबर की क्षमता को डेमोनस्ट्रेट करेगा। बता दें कि रिफत के इस सैटेलाइट को लॉन्च के लिए उसे “क्यूब्स इन स्पेस” नाम के कम्पीटिशन से चुना गया था। यह कम्पीटिशन NASA और आई डूडल लर्निंग संस्था द्वारा कराया गया था।




गौरतलब है कि भारत हाल ही में अपने स्पेस प्रोग्रामों को दुनियाभर में काफी चर्चा में रहा है। बीते 5 मई को भारत ने साउथ एशिया सेटलाइट (GSAT-9) का सफल प्रक्षेपण किया था। यह प्रक्षेपण श्रीहरिकोटा से किया गया था और इससे पाकिस्तान को छोड़, सार्क के छह देशों को फायदा होगा। इसे बनाने में भारत को तीन साल लगे थे और 235 करोड़ रुपये खर्च हुए। भारत के अलावा अफगानिस्तान, बांग्लादेश, भूटान, मालदीव, नेपाल और श्रीलंका को जीसैट-9 का लाभ ले सकेंगे। वहीं मार्च महीने में भी भारत ने 104 सैटेलाइट्स को एक साथ लॉन्च करके एक नया किर्तीमान तय किया था।

In this article