केजीएमयू में होता रहा गैंगरेप, शोर मचाने पर दी करेंट लगाने की धमकी

लखनऊ। लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी(केजीएमयू) की एक ऐसी शर्मनाक घटना सामने आई है जिसे देखकर हम अंदाजा लगा सकते हैं कि किस तरह हमारे देश की कानून व्यवस्था बद से बद्दतर होती जा रही है। केजीएमयू के शताब्दी अस्पताल में एक गैंगरेप का मामला सामने आया है। पति के इलाज के लिए गयी महिला को अस्पताल के ही सेक्योरिटी गार्ड और लिफ्टमैन ने अपनी हवस का शिकार बना लिया। घटना बुधवार रात 10:30 बजे कि है जब महिला को 4 घंटे तक बंधक बनाकर वारदात को अंजाम दिया। फिलहाल दो आरोपियों(गार्ड शिवकुमार और संतोष कश्यप) को गिरफ्तार कर लिया गया है और पुल‍िस मामले की जांच कर रही है।




पीड़िता हरदोई जिले की रहने वाली है और उसके पति को न्यूरो की समस्या है जिसके इलाज के लिए वो अस्पताल गयी थी। उसका पति मजदूरी करता था पांच महीने पहले डॉक्टर ने जांच के बाद ऑपरेशन के लिए कहा था। बीते मंगलवार को वह पति की जांच करवाने के लिए आई थी वहां उसके किसी परिचित ने उसे शताब्दी के फ़र्स्ट फ्लोर पर बने ओपीडी के सामने सोने के लिए जगह दिलवा दी। वहीं रात करीब 10:30 बजे ल‍िफ्टमैन शिवकुमार खाना दिलाने के बहाने मह‍िला को अपने कमरे में ले गया जहां उसके साथी संतोष और विनय नाम के दो लोग पहले से ही मौजूद थे। वहां मौजूद तीनों लोगों ने बारी-बारी से महिला को अपनी हवस का शिकार बनाया।




पहचान बताकर आरोपी गिरफ्तार

महिला ने गुरुवार सुबह पुलिस में जाकर मामले की रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने महिला से दोनों की पहचान पूछकर आरोपी संतोष और विनय को गिरफ्तार कर लिया है जबकी तीसरा आरोपी अभी फरार है।

{ यह भी पढ़ें:- UP : फ्लाईओवर से नीचे गिरी बस, 2 लोगों की मौत, 31 घायल }

मशीनों के चलते छुप गयी चीख़ों की आवाज

पीड़िता ने आरोप लगाया है कि उसे मशीन कक्ष में ले गए जहां उसके साथ 3-4 घंटे तक दरिंदगी करते रहे। पीड़िता लगातार चीखती रही लेकिन मशीनों की आवाज के चलते उसकी आवाज दब गयी। ज्यादा शोर करने पर आरोपी महिला को लगातार धमकी देते रहे कि अगर शोर मचाया तो करेंट लगा देंगे।

{ यह भी पढ़ें:- मुलायम ने बेटे अखिलेश के साथ काटा जन्मदिन का केक, नहीं पहुंचे शिवपाल-रामगोपाल }

Loading...