केशव मौर्य

यूपी में सीएम पद की दौड़ में केशव प्रसाद मौर्य सबसे आगे

373

लखनऊ। यूपी विधानसभा की 312 सीटों पर जीत हासिल कर अद्वितीय विजय हासिल करने के बाद से बीजेपी के भीतर सीएम पद के कई दावेदारों के नाम सामने आने लगे हैं। इस दौड़ में पहले से केन्द्रीय गृहमंत्री और यूपी के पूर्व सीएम राजनाथ सिंह का नाम सुर्खियों में रहा है, तो वहीं गोरखपुर के सांसद और पार्टी के स्टार प्रचारक योगी आदित्यनाथ के समर्थक उनके सीएम बनाए जाने को लेकर आशान्वित हैं। वहीं विधानसभा चुनावों में प्रचंड बहुमत के साथ उभरी बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य को अब इस दौड़ में सबसे आगे माना जा रहा है। हालांकि इस दौड़ में केन्द्रीय मंत्री और गाजीपुर के सांसद मनोज सिन्हा और लखनऊ के मेयर दिनेश शर्मा के नाम की चर्चा भी सियासी गलियारों में हो रही है।




मिली जानकारी के मुताबिक फूलपुर से सांसद और यूपी के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य के नेतृत्व में पार्टी को मिली एतिहासिक जीत को पार्टी हाई कमान मौर्य के नेतृत्व कौशल के रूप में देख रही है। जिस तरह से मौर्य ने यूपी बीजेपी की कमान अपने हाथ लेने के साथ 275 प्लस का नारा दिया उससे पार्टी कार्यकर्ताओं में एक नई ऊर्जा का संचार हुआ। उन्होंने गुटबाजी का शिकार रही प्रदेश की कार्यकारिणी को न सिर्फ एकजुट किया बल्कि प्रदेश भर में बूथ स्तर से लेकर राष्ट्रीय कार्यकारिणी के बीच संवाद स्थापित करने का काम को बखूबी अंजाम दिया।

यूपी में बीजेपी को मिली अब तक की सबसे बड़ी सफलता के पीछे केशव प्रसाद मौर्य की मेहनत को उनके सीएम बनाए जाने की संभावनाओं का सबसे महत्वपूर्ण आधार कहा जा रहा है।




पार्टी सूत्रों की माने तो केशव प्रसाद मौर्य का नाम भले ही सुर्खियों में हो लेकिन पार्टी की संसदीय समिति की बैठक रविवार की शाम छह बजे बुलाई गई है। जिसमें पार्टी का शीर्ष नेतृत्व पांचों राज्यों के विधानसभा चुनावों के बाद सामने आए परिणामों की समीक्षा कर आगे की रणनीति और मुख्यमंत्रियों के नाम की घोषणा करेगा।

In this article