मुस्लिम नेताओं के साथ बैठक में पीएम मोदी ने कहा, ट्रिपल तलाक को न बनाए सियासी मुद्दा

नई दिल्ली। पीएम मोदी ने मंगलवार को मुस्लिम समुदाय के नेताओं और वरिष्ठ मौलवियों से बातचीत के दौरान कहा कि ट्रिपल तालाक के मुद्दे को सियासी मोड ना दें। मौलाना महमूद ए मदनी समेत संगठन के कई दूसरे बड़े नेताओं ने मंगलवार को प्रधानमंत्री से मुलाकात की और मामले में सुधार की प्रक्रिया शुरू करने की अपील की।




प्रधानमंत्री कार्यालय में हुई 25 मुस्लिम नेताओं और पीएम मोदी के बीच हुई बातचीत में मोदी ने बताया कि लोकतन्त्र की सबसे बड़ी ताकत आपसी प्यार और सद्भभावना है। उन्होने कहा कि आने वाली पीढ़ियों को हमें बढ़ती कट्टरता से बचाना जरूरी है। ट्रिपल तलाक के मुद्दे को सियासी मुद्दा न बनाए की अपील करते हुए मोदी ने कहा इस मुद्दे का हल निकालने के लिए उन्हें खुद सुधार की कोशिश करनी चाहिए।



मुस्लिम नेताओं ने पीएम के नजरिए की तारीफ की और कहा कि उनसे मिल के काफी तसल्ली मिली है। डेलीगेशन के मेंबर्स ने कश्मीर के हालात पर चिंता जताई। नेताओं ने कहा कि सिर्फ आप ही इस मुद्दे को सुलझा सकते हैं। मुस्लिमों को देश के विकास में बराबर का भागीदार बताते हुए मोदी ने कहा कि आतंकवाद से निपटने के लिए उन्हें पूरी ताकत से सामने आना चाहिए।