Home खेल राजनीति बिज़नेस तकनीक मूवी-मसाला दुनिया जीवन मंत्रा क्षेत्रीय शिक्षा पर्दाफाश
ENGLISH


आसाराम का बेटा बनाएगा राजनैतिक दल



Published by:
Published on: Sun, 29 Sep 2013 at 11:10 IST
नई दिल्ली : नाबालिग लड़की के यौन शोषण के आरोप में जेल में बंद आसाराम के बेटे नारायण साई जल्द ही अपना राजनैतिक दल बनाने जा रहे हैं| कहा जा रहा है इस दल का नाम होगा 'ओजस्वी', इस के आगे पार्टी लगेगा या फिर दल या मोर्चा इसका अभी खुलासा नहीं हो सका है|

नारायण साई के मुताबिक लंबे समय से हमारे साधक मांग कर रहे हैं कि हम राजनीतिक पार्टी बनाएं और हम जल्द ही पार्टी लॉन्च करेंगे|

ये भी देखें

लंबे समय से फरार आसाराम की सहयोगी और उनके छिंदवाड़ा आश्रम की वॉर्डन शिल्पी ने बुधवार को जोधपुर कोर्ट में सरेंडर कर दिया। शिल्पी ने जोधपुर कोर्ट से अग्रिम जमानत की अर्जी खारिज होने के बाद सरेंडर किया। आसाराम की गिरफ्तारी के बाद से ही पुलिस को शिल्पी की तलाश थी। जोधपुर पुलिस ने शिल्पी की तलाश में छिंदवाड़ा और आसाराम के दूसरे आश्रमों पर दबिश भी ‍दी थी, लेकिन वह हर बार पुलिस से बचती रही। आसाराम के छिंदवाड़ा आश्रम की वॉर्डन शिल्पी पर पीड़ित लड़की को आसाराम से मिलवाने का आरोप है। नाबालिग लड़की का आरोप है कि शिल्पी ने ही उसे जोधपुर आश्रम भेजकर आसाराम से मिलवाया था। शिल्पी को आसाराम का सबसे बड़ा राजदार माना जा रहा है। बताया जा रहा है कि आसाराम के लिए लड़कियों को तैयार करने का काम शिल्पी ही देखती थी। लिहाजा, शिल्पी के सरेंडर से पुलिस को आसाराम के कई दबे राज सामने आने की उम्मीद है।

यदि सूत्रों की माने तो आसाराम और शिल्पी से बातचीत अप्रैल माह में 9321933400 और 7804907062 पर शुरू हुई| यही दो नंबर है जिसमें कैद है कई राज जिसकी मदद से जोधपुर पुलिस आसाराम पर शिकंजा कसना चाहती है| दरअसल इन दोनों नंबरों में पहला वाल नंबर आसाराम बापू का है और दूसरा शिल्पी का है| सूत्र यहाँ तक बताते हैं कि आसाराम इस मोबाइल से बातचीत तो करते थे लेकिन खुद वह कभी पिक नहीं करते थे इसके लिए उनका रसोइया फ़ोन उठाता था और जब जरुरत समझने पर आसाराम के कान में वहीँ लगता था आसाराम उस मोबाइल को कभी हाथ तक नहीं लगाते थे|

सूत्र यह भी बताते हैं कि आसाराम से उनके मैनेजर तक बात करते डरते थे लेकिन जहाँ मार्च तक जानती नहीं थी वहीँ अप्रैल माह बाबा से बातचीत शुरू कर दी| शिल्पी को आसाराम के कहने पर 15 मार्च को हरिद्वार से छिंदवाड़ा गुरुकुल का वार्डन बना कर भेजा गया था| छिंदवाड़ा पहुंचते ही शिल्पी ने नया फोन नंबर लिया और वहा से वह पहली बार आसाराम को 23 अप्रैल को फोन करती है| इसके बाद दूसरी बार वो 27 अप्रैल, फिर 10, 11 जून को फोन करती है| उसके बाद वह फिर अगले महीने यानी कि जुलाई में 22 और 31 जुलाई को फिर आसाराम को फोन करती है| इस दौरान दोनों की लम्बी बातचीत होती है|
इसके बाद 6 अगस्त को पीड़ित लड़की के पेट में दर्द होता है| इधर दर्द उठा उधर अगले ही दिन यानी सात अगस्त को शिल्पी फिर आसाराम को फोन करती है| उसके बाद फिर से उसकी 8 अगस्त को बातचीत होती है| लेकिन इसके बाद जैसे-जैसे ल़ड़की को आसाराम के पास पहुंचाए जाने का वक़्त क़रीब आता जाता है, शिल्पी और आसाराम की बातचीत का सिलसिला बढ़ता जाता है|

9 अगस्त को जब लड़की छिंदवाड़ा गुरुकुल से जोधपुर आसाराम के पास जाने के लिए रवाना होती है, तब भी शिल्पी आसाराम को फिर फोन करती है और उसके बाद 13 अगस्त को वह पीड़ित लडकी आसाराम से मिलने जोधपुर पहुंचती है| इस दौरान वह फिर आशाराम से बातचीत करती है | अब सवाल ये है कि उत्त है छह अगस्त से लेकर 17 अगस्त तक ही शिल्पी और आसाराम के बीच इतनी बातचीत क्यों हुई और 17 अगस्त के बाद से अचानक दोनों के बीच बातचीत क्यों बंद हो गई?
PHOTO GALLERIES
Kathakali dance performance at Lucknow by Kerala artist to promote tourism
Priyanka Chopra promotes Marry Kom in Lucknow
10 best pictures of Star Plus' popular show 'Mahabharat'
Kareena Kapoor and Ajay promoting upcoming movie Singham Returns
Picture Gallery: Nisha Yadav Topless photoshoot
Mohit Marwah at Life Ok Awards
Kareena Kapoor at Television show Jhalak Dikhhla Jaa
Police Charge Batons over Shia Muslims in Lucknow
Salman Khan's upcoming movie 'KICK' - promotion handled by Events N More (Mumbai)
Mohanlalganj Rape: BJP Youth Wing Conducted 'Hawan' to Purify Mulayam Singh's Mind
Varun Dhawan and Alia Bhatt visit theatres for Fans
Varun Dhawan and Alia Bhatt promotes Humpty Sharma Ki Dulhania in Pune | Watch Pictures
Picture Gallery: Premiere of 'Lekar Hum Deewana Dil'
Varun Dhawan and Alia Bhatt promote Humpty Sharma ki dulhania in Bangalore | Watch Pictures
Zareen Khan Launches an electronic brand in Mumbai
>>

Related Stories:-


Opinion Polls
क्या सी-सैट परीक्षा ख़त्म होनी चाहिए ?
हाँ
नहीं
पता नहीं

Pardaphash name, logo and all associated elements ® and © 2011 Mahakaal News Management Pvt. Ltd.
All rights reserved. Pardaphash and the Pardaphash logo are registered marks of Mahakaal News management Pvt. Ltd.
Valid XHTML 1.0 Transitional
EXCLUSIVE: ये कैसी लापरवाही, बिना डीजी के चल रहा यूपी का स्वास्थ्य विभाग