हरियाणा में 22 वर्षीय युवती से गैंगरेप के बाद हत्या, पहचान मिटाने के लिए सिर गाड़ी से कुचला

चंडीगढ़| हरियाणा में देश को हिला देने वाले निर्भया कांड जैसी ही बर्बर घटना हुई है। हरियाणा के ही सोनीपत की रहने वाली एक युवती का अपहरण कर सामूहिक दुष्कर्म करने के बाद क्रूरतापूर्वक हत्या कर दी गई, उसके चेहरे और सिर को किसी भारी चीज से क्षतिग्रस्त कर दिया और वाहन के नीच कुचल दिया गया। हरियाणा पुलिस ने मामले में दो युवकों को गिरफ्तार किया है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने इस दर्दनाक घटना पर गहरी संवेदना व्यक्त की है और आशा जताई है कि हरियाणा पुलिस अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई करेगी। सर्वोच्च न्यायालय द्वारा दिसंबर, 2012 निर्भया सामूहिक दुष्कर्म हत्याकांड मामले में दोषियों की मौत की सजा बरकरार रखने का फैसला सुनाने के कुछ ही दिन बाद हरियाणा में यह जघन्य अपराध हुआ।




पीड़िता के परिवार वालों द्वारा दर्ज शिकायत के अनुसार, 22 वर्षीय पीड़िता नौ मई को लापता हो गई थी। पीड़िता का शव राष्ट्रीय राजधानी से 70 किलोमीटर दूर रोहतक में पाया गया। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि शव की फोरेंसिक जांच में पीड़िता के साथ सामूहिक दुष्कर्म और बर्बरतापूर्वक हत्या का खुलासा हुआ। शव का कुछ हिस्सा आवारा कुत्तों ने क्षतिग्रस्त कर दिया था। रोहतक के परास्नातक चिकित्सा विज्ञान संस्थान में फोरेंसिक मेडिसीन विभाग के अध्यक्ष एस. के. धत्तरवाल ने बताया कि पीड़िता के शव के अंत्य परीक्षण में यौन हिंसा, गुप्तांगों को विकृत करने और हत्या का खुलासा हुआ है। पुलिस को बताया गया है कि पीड़िता के चेहरे और सिर पर किसी भारी चीज से हमला किया गया और किसी वाहन से कुचला गया। पुलिस के मुताबिक, शव के साथ यह बर्बरता पीड़िता की पहचान छिपाने की मंशा से की गई।




एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि हरियाणा पुलिस ने इस बर्बर सामूहिक दुष्कर्म हत्याकांड की जांच शुरू कर दी है और गिरफ्तार किए गए व्यक्तियों से पूछताछ की जा रही है। गिरफ्तार किए गए व्यक्तियों की पहचान सुमित और विकास के रूप में की गई है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि सुमित पीड़िता का पड़ोसी है और पीड़िता के पीछे लगा हुआ था। सुमित ने पीड़िता पर शादी करने का दबाव भी डाला था, लेकिन पीड़िता ने उसका निवेदन ठुकरा दिया था। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि सुमित ने ही पीड़िता का अपहरण कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म की साजिश रची। दर्दनाक हादसे पर शोक व्यक्त करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा, “इस बर्बर और हड्डियों को सुन्न कर देने वाली घटना ने देश की चेतना को झकझोर दिया है, जो हम सभी को महिला सुरक्षा के बेहद अहम मुद्दे की याद दिलाता है।”