कल फैजाबाद आज मुंबई, आखिर कहां तक फैला है आईएसआई का नेटवर्क

144

लखनऊ। यूपी एटीएस ने कल आईएसआई के संदिग्ध एजेंट की फैजाबाद में गिरफ्तारी के बाद आज एक और संदिग्ध आईएसआई एजेंट को मुम्बई से गिरफ्तार किया है। यूपी एटीएस के महानिरीक्षक असीम अरुण ने यहां बताया कि महाराष्ट्र और यूपी की एटीएस की संयुक्त कार्रवाई में कल गिरफ्तार किए गए अल्ताफ कुरैशी के सहयोगी एजेंट मुम्बई के अग्री पाडा निवासी जावेद को आज सुबह गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने बताया कि जावेद को ही पाकिस्तान से धन जमा करने के निर्देश मिलते थे और उसके बताने पर अल्ताफ ने खाते में धन जमा कराया था। उसके पास से पुख्ता प्रमाण मिले हैं कि उसने कल फैजाबाद में पकड़े गये आईएसआई एजेंट आफताब (फैजाबाद) के खाते में पाकिस्तान में सक्रिय एक एजेंट के निर्देश पर जासूसी के एवज में धन जमा किया था।



बताया जा रहा है कि महाराष्ट्र एटीएस के साथ मिलकर उससे पूछताछ की जा रही है। अन्य एजेन्टों के भी नाम सामने आने की उम्मीद है। दोनों अभियुक्तों अल्ताफ और जावेद को आज मुम्बई की अदालत में इंस्पेक्टर अविनाश मिश्र पेश करेंगे और ट्रांजिट रिमांड का आदेश लेकर दोनों को लखनऊ लाया जाएगा। उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र एटीएस की कल संयुक्त कार्रवाई में गुजरात के राजकोट के रहने वाले अल्ताफ भाई कुरैशी को मुम्बई के पाय धुनी क्षेत्र स्थित पोपल वाड़ी से गिरफ्तार किया गया।




अरुण ने बताया कि अल्ताफ हवाला का अवैध कारोबार करता है और आरोप है कि उसने पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के कहने पर आफताब के खाते में धन जमा कराया था। आफताब को यूपी एटीएस, सेना की खुफिया इकाई और उत्तर प्रदेश की खुफिया इकाई के आपसी समन्वय से कल फैजाबाद से गिरफ्तार किया गया था। अल्ताफ के पास से लगभग 70 लाख रुपये भी बरामद किए गए हैं। उससे पूछताछ की जा रही है। इस गिरफ्तारी से आईएसआई नेटवर्क की और परतें खुल सकती हैं। इस प्रकरण में अभी और गिरफ्तारियां संभव हैं।

In this article