बुरहान के आतंकी दोस्त सबजार समेंत तीन आतंकी सैन्य मुठभेड़ में ढ़ेर

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर में शुक्रवार को देर रात आतंकवादियों और सेना के बीच हुई एक मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिद्दीन के टॉप कमांडर सबजार अहमद भट्ट ढ़ेर हो गया। सबजार पिछले वर्ष मारे गए आतंकी बुरहान बानी का दोस्त बताया जाता है जिसे हिजबुल ने बानी के बाद जम्मू कश्मीर की कमान सौंपी थी। बताया जा रहा है कि यह मुठभेड़ कश्मीर के त्राल सेक्टर के सोईमोह गांव में हुई है। जहां हिजबुल के कुछ आतंकवादियों के छुपे होने की खबर सुरक्षा बलों को मिली थी। इस कार्रवाई में शनिवार दोपहर तक सैन्य बलों ने सबजार समेंत सभी तीन आतंकियों को मार गिराया है।




मिली जानकारी के मुताबिक कश्मीर के त्राल से करीब 35 किलोमीटर दूर सोईमोह गांव में कुछ आतंकवादियों के छुपे होने की खुफिया जानकारी सुरक्षा बलों को मिली थी। इसी जानकारी के आधार पर सेना ने गांव की घेराबंदी की कार्रवाई शुरू की। इसी दौरान एक मकान से गोलीबारी शुरू हो गई। सेना की जवाबी कार्रवाई में दो आतंकी मारे गए, जिनमें एक की पहचान बुरहान के दोस्त सबजार के रुप में हुई है जबकि दूसरे की पहचान नहीं हो सकी। वहीं दूसरे आतंकी को दूसरे ठिकाने पर मार गिराया गया। तीसरे आतंकी तक पहुचनेे के लिए सेना को लंबे समय तक सर्च आॅपरेशन चलाना पड़ा।




घुसपैठ कर रहे छह आतंकी भी मार गिराए

वही दूसरी ओर शनिवार की सुबह कश्मीर के रामपुर सेक्टर में एलओसी पर घुसपैठ कर रहे छह आतंकवादियों को सैनिकों ने मार गिराया। सेना के प्रवक्ता की ओर से घुसपैठ कर रहे आतंकियों से हुए एनकाउंटर में कुल छह आतंकवादियों के मारे जाने की पुष्टि हुई है। बताया गया है कि घुसपैठ कर रहे आतंकियों के पास चार एके 47 राइफल, एक पिस्टल और भारी मात्रा में कारतूस बरामद हुए है।




बुरहान बानी के बाद सबजार बना कश्मीर में हिजबुल का कमांडर—

{ यह भी पढ़ें:- कश्मीर के बांदीपोरा में 5 आतंकी ढ़ेर, एक जवान शहीद }

आतंकी बुरहान बानी के एनकांटर में मारे जाने के बाद हिजबुल ने कश्मीर में सबजार को उसका उत्तराधिकारी बनाया था। बुरहान बानी के बाद से उसे कश्मीर में हिजबुल का पोस्टर ब्वाय माना जाता था। सबजार की दक्षिणी कश्मीर में मजबूत पैठ होने बात कही जाती है। वह बुरहान का सबसे करीबी बताया जाता ​था।

{ यह भी पढ़ें:- पाकिस्तान ने चूड़ियां नहीं पहन रखीं, उसके पास भी एटम बम है: फारुख अब्दुल्ला }

Loading...