शिवपाल का भतीजे अखिलेश को अल्टीमेटम, तीन महीने में पद छोड़ें नहीं तो बनाएंगे नई पार्टी

18

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव के छोटे भाई शिवपाल यादव ने अपने भतीजे अखिलेश यादव को अल्टीमेटम दिया है कि अगर तीन महीनों में उन्होंने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद को नहीं छोड़ा तो वह नया सेक्युलर दल खड़ा करेंगे। चाचा शिवपाल ने जिस अंदाज में ये बात कही है उससे स्पष्ट है कि शिवपाल यादव समाजवादी पार्टी की ईंट से ईंट से बजाने को तैयार हैं। वह भले ही अपने बड़े भाई मुलायम सिंह यादव के सम्मान का जिक्र कर अखिलेश यादव पर दबाव बनाने की कोशिश कर रहें हो लेकिन उनकी मंशा कहीं न कहीं अपने अपमान का बदला लेने की है।




शिवपाल यादव ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष बनते समय अखिलेश यादव ने कहा ​था कि तीन महीने बाद पद और पार्टी नेता जी को सौंप देंगे। अब अखिलेश अपना वादा पूरा करें नहीं तो वह नई पार्टी के रूप में एक सेक्युलर मोर्चा तैयार करेंगे।




शिवपाल यादव ने कहा कि आज जो लोग खुद को समाजवादी बता रहे हैं उन्हीं की वजह से पार्टी इस हाल में पहुंची है। उन्हीं लोगों ने 2014 के लोकसभा चुनावों में टिकट बांटे थे पार्टी को सिर्फ 5 सीटें ही मिलीं। उसके बाद विधानसभा चुनावों में भी टिकट बांटने की जिम्मेदारी ले ली और 227 विधायकों वाली पार्टी 47 पर सिमट कर रह गई।

इसके बाद शिवपाल यादव अपने चिर प्रतिद्वन्दी रामगोपाल यादव का नाम​ लिए बिना कहा कि कहा कि कुछ शकुनी पार्टी का संविधान लिखने की बात कह रहे हैं उन्हें गीता पढ़नी चाहिए। सब जानते हैं कि समाजवादी पार्टी को नेता जी ने खड़ा किया।

In this article