अदालत ने वीरभद्र सिंह व उनकी पत्नी की गिरफ्तारी पर लगाई रोक

%e0%a4%85%e0%a4%a6%e0%a4%be%e0%a4%b2%e0%a4%a4 %e0%a4%a8%e0%a5%87 %e0%a4%b5%e0%a5%80%e0%a4%b0%e0%a4%ad%e0%a4%a6%e0%a5%8d%e0%a4%b0 %e0%a4%b8%e0%a4%bf%e0%a4%82%e0%a4%b9 %e0%a4%b5 %e0%a4%89%e0%a4%a8

शिमला। हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय ने राज्य के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह व उनकी पत्नी को आय से अधिक संपत्ति मामले में बड़ी राहत प्रदान की है। न्यायालय ने गुरुवार को केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कहा कि दोनों की गिरफ्तारी से पहले उसे न्यायालय की अनुमति लेनी होगी।

न्यायालय ने कहा कि अगर सीबीआई को उन्हें गिरफ्तार करने की जरूरत होगी, तो पहले वह न्यायालय को सूचित करेगी।

मालूम हो कि वीरभद्र ने अपने खिलाफ प्राथमिकी को खारिज करने की मांग करते हुए एक याचिका दायर की थी, जिस पर न्यायाधीश राजीव शर्मा तथा न्यायाधीश सुरेश्वर सिंह ठाकुर की खंडपीठ ने सुनवाई करते हुए कहा कि सीबीआई मामले की जांच जारी रखेगी। मामले की अगली सुनवाई 19 नवंबर को होगी।

उल्लेखनीय है कि सीबीआई ने शिमला में वीरभद्र सिंह के निजी आवास जाखू हिल्स के हॉली लॉज में 26 सितंबर को छापेमारी की थी। उस वक्त मुख्यमंत्री व उनका परिवार उनकी बेटी की शादी में व्यस्त था।

शिमला। हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय ने राज्य के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह व उनकी पत्नी को आय से अधिक संपत्ति मामले में बड़ी राहत प्रदान की है। न्यायालय ने गुरुवार को केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कहा कि दोनों की गिरफ्तारी से पहले उसे न्यायालय की अनुमति लेनी होगी।न्यायालय ने कहा कि अगर सीबीआई को उन्हें गिरफ्तार करने की जरूरत होगी, तो पहले वह न्यायालय को सूचित करेगी।मालूम हो कि वीरभद्र ने अपने खिलाफ प्राथमिकी को खारिज करने की मांग करते…