आगामी 20 नवंबर से शुरू हो सकता है संसद का शीतकालीन सत्र

नई दिल्ली। केंद्र की सत्तारूढ़ राजग सरकार इन दिनों संसद के शीतकालीन सत्र को शुरुआती कवायद में जुटी है। उम्मीद जताई जा रही है कि यह सत्र 20 नवंबर से शुरू होगा और करीब एक महीना चलेगा। आगामी बुधवार को केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में संसदीय मामलों की एक बैठक का आयोजन किया गया है जिसमें सत्र की तिथियों पर निर्णय किया जायेगा।

सरकार ने अपनी इच्छा जाहीर करते हुए कहा है कि शीतकालीन सत्र को नवंबर के तीसरे सप्ताह से पहले बुलाया जाए ताकि जीएसटी विधेयक को जल्द पारित किया जाना सुनिश्चित किया जाए। सरकार का कहना है कि ऐसी स्थिति में अगर जीएसटी विधेयक को राज्यों से जल्दी से मंजूरी मिल जाएगी तो इसे एक अप्रैल 2016 तक लागू किया जा सकता है। आपको बता दें कि कुछ संवैधानिक संशोधनों को कम से कम आधे राज्यों की विधानसभाओं के मंजूरी की जरूरत होती है।

आपको बता दें कि बीते मानसून सत्र में विपक्षी दलों ने भाजपा के कुछ वरिष्ठ नेताओं पर आरोप मढ़ते हुए जमकर हंगामा किया था जिसकी वजह से संसद के मानसून सत्र की कार्यवाही काफी प्रभावित हुई थी।

पिछले सत्र में कांग्रेस ने आईपीएल मुद्दे पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के इस्तीफे तथा व्यापम घोटाला मामले में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के इस्तीफे की मांग को लेकर मानसून सत्र नहीं चलने दिया था।

 

Loading...