इंग्लैंड महिला टीम की विकेटकीपर सारा टेलर पुरूषों के साथ क्रिकेट खेल इतिहास रचने की तैयारी में

एलिएड। अभी तक आपने किसी भी महिला को पुरुषों के साथ क्रिकेट मैच खेलते नहीं देखा होगा लेकिन अब इंग्लैंड वुमेन क्रिकेट टीम की खिलाड़ी विकेटकीपर सारा टेलर पुरुषों के साथ क्रिकेट मैच खेल एक नया इतिहास रचने की तैयारी कर रही है।

मिली जानकारी के अनुसार, इंग्लैंड की 26 वर्षीया खिलाड़ी सारा शनिवार को पुरूषों की टीम का हिस्सा बनकर दो दिवसीय ए ग्रेड मैच खेलेंगी और ऐसा करने वाली वह विश्व की पहली महिला क्रिकेट खिलाड़ी बन जाएंगी। आस्ट्रेलिया में पुरुषों के ए-ग्रेड क्रिकेट टूर्नामेंट में सारा पोर्ट एडिलेड के खिलाफ नॉर्दन डिस्ट्रिक्ट्स की तरफ से मैदान में उतरेंगी। 

ऐसा पहली बार हुआ है कि कोई महिला पुरुषों के ए-ग्रेड टूर्नामेंट दो दिवसीय मैच खेलेगी। इससे पहले आस्ट्रेलिया महिला क्रिकेट टीम की पूर्व गेंदबाज कैथरीन फिट्जपाट्रिक ने डांनदेनांग क्लब की ओर से साल 2006-07 तक 20-20 मैच खेला था। 

वर्ष की वर्तमान आईसीसी महिला इंटरनेशनल वन-डे क्रिकेटर ऑफ दी इयर, सारा ने कहा कि मैं अपने कॉलेज में लड़कों जैसा क्रिकेट खेलते हुए बड़ी हुई हूं और हाल ही में मैंने इंग्लैड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड में मेन्स प्रीमियर लीग में खेला था, तो मुझे इसकी आदत है। सारा वर्तमान में 50 ओवरों का वुमेन्स स्टेट क्रिकेट खेल रही हैं। 

इंग्लैंड के लिए 8 टेस्ट, 98 वनडे और 73 ट्वेंटी-20 मैच खेलने वाली टेलर अपनी इस खास टीम के लिए भी विकेटकीपर की भूमिका निभाएंगी। उन्हें नंबर 8 पर बैटिंग के लिए भेजा जाएगा। सारा टेलर इस नई चुनौती के लिए नर्वस तो हैं लेकिन एक्साइटेड भी हैं।