एटा में बूथ कैप्चरिंग की खुली चुनौती देने वाले सपा नेता पुष्पेंद्र यादव ने किया सरेंडर

एटा: पंचायत चुनाव के दूसरे फेज में 13 अक्टूबर को पुलिस को बूथ कैप्चरिंग की खुली चुनौती देने और सीओ राघवेंद्र सिंह चौहान की मां को आपत्तिजनक शब्द कहने वाले सपा नेता पुष्पेंद्र यादव ने सोमवार को सीजेएम कोर्ट में सरेंडर कर दिया है। इस मामले में सीओ ने पुष्पेंद्र यादव पर आईपीसी की धारा 353, 504 और 135 (क) लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1991 के तहत सकीट थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

पुष्पेंद्र वार्ड 26 से सपा समर्थित प्रत्याशी है । पहले चरण में हुए मतदान के दौरान कुंवरपुर में सीओ राघवेंद्र सिंह ने उससे गाड़ी हटाने को कहा था। इसके बाद बात आई-गई हो गई। शाम को पुष्पेंद्र ने सीओ राघवेंद्र से मोबाइल पर बात की। ऑडियो टेप की बातचीत के अनुसार कुंवरपुर पर खड़ा पुष्पेंद्र सीओ को प्रारंभ में अपना परिचय देता है। इसके बाद सीओ से सीधे सवाल करता है कि तुम बदतमीजी क्यों करते हो? सीओ ने कहा मैं ऐसा किसी के साथ नहीं करता। इस पर पुष्पेंद्र गुस्से में उलटकर कहता है कि मेरे साथ नहीं की? सीओ ने समझाते हुए कहा कि जब जोनल मजिस्ट्रेट रहते हैं तो गाड़ी हटाने को कहा जाता है। जब कहा था तो गाड़ी हटा देनी चाहिए थी।

इस पर पुष्पेंद्र कहता है कि तुम कुंवरपुर पर आ सकते हो। दम है तो आजा। सीओ तमीज से बात करने की हिदायत देते हैं तो पुष्पेंद्र भद्दी गाली देता है। जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेंद्र सिंह यादव का कहना है कि मेरे बेटे ने सीओ से मोबाइल पर बात ही नहीं की। मैं ऑडियो रिकार्डिंग की आवाज की जांच की मांग करूंगा, जिससे विरोधियों की साजिश का खुलासा हो सके।

Loading...