एसीबी ने फिर कसा दिल्ली सरकार पर शिकंजा, उपमुख्यमंत्री निशाने पर

नई दिल्‍ली। दिल्ली की एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) ने एक बार फिर सूबे की सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। इस बार उनके निशाने पर उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया है जिनपर एसीबी ने रिशेदारों को सरकारी विज्ञापन देने का आरोप लगाया है। हालांकि आप ने भी एसीबी को चुनौती देते हुए कहा कि हिम्मत है तो सिसौदिया को द्गिरफ़्तार करके दिखाओ।  

 एसीबी ने सिसौदिया पर आरोप लगाया है कि सिसौदिया ने सभी नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए अपने रिश्तेदारों को फायदा पहुंचाया है। उन्होने दिल्ली सरकार के कई विज्ञापनों का ठेका अपने रिश्तेदार को सौंपा है। एसीबी ने विज्ञापन विभाग के खिलाफ नोटिस जारी करते हुए मामले की जांच के लिए पहला कदम बढ़ा दिया है। एसीबी प्रमुख मुकेश मीणा ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं।

बताया जा रहा है कि एसीबी से इस बात की शिकायत दिल्‍ली के एक व्‍यक्ति ने की है। इस व्यक्ति ने मामले से जुड़े कई सबूत भी पेश किए हैं। एसीबी अब और सबूत जुटाने में लग गई है

एसीबी ने दिल्ली के सूचना एवं प्रचार निदेशालय को नोटिस भेजा है। एमके मीणा का कहना है कि इस मामले की जांच की जा रही है। एसीबी इन आरोपों पर सबूत जुटाने में लगी है। अगर जांच के दौरान यह आरोप सही पाए जाते हैं तो सिसौदिया के खिलाफ जरूर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

 

Loading...