कोरोना को लेकर अफवाहों का बाजार गर्म, यहाँ लोग कर रहे अजीबोगरीब टोटके

1

रायबरेली। कोरोना से बचने के लिए जहां गोमूत्र, तुलसी आदि से इलाज के दावे हो रहे हैं, वहीं इसको लेकर तरह-तरह की अफवाहों का बाजार भी गर्म है। इन अफवाहों में आकर लोग अन्धविश्वसों का सहारा ले रहे हैं। ग्रामीण अंचलों में ये अफवाहें अपना पैर पसार रही हैं और इनको सही मानकर इन उपायों को लोग कर रहें हैं। हालांकि स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातर इन अंधविश्वास से बचने की अपील कर रही है।

%e0%a4%95%e0%a5%8b%e0%a4%b0%e0%a5%8b%e0%a4%a8%e0%a4%be %e0%a4%95%e0%a5%8b %e0%a4%b2%e0%a5%87%e0%a4%95%e0%a4%b0 %e0%a4%85%e0%a4%ab%e0%a4%b5%e0%a4%be%e0%a4%b9%e0%a5%8b%e0%a4%82 %e0%a4%95%e0%a4%be :

रायबरेली के कई क्षेत्रों में कोरोना को लेकर कई तरह की अफवाहों की चर्चा है इनमें घर के सामने सात दिन तक दिया जलाना, छोटे बच्चों को मिठाई खिलाना,सास द्वारा बहु को साड़ी भेंट देना सहित कई बातें हैं। ये सभी तेजी से फैल रही है और लोग उनपर विश्वास कर इन उपायों को आजमा भी रहे हैं। महिलायें खासकर इनमें आगे हैं।

ग्रामीण अंचलों में लोग इन अन्धविश्वसों को कर भी रहे है और अन्य को भी इसे करने को प्रेरित कर रहे हैं। इन अंधविश्वासों के सहारे कोरोना से बचने के दावे किए जा रहे हैं। लोग अपने सगे संबंधियों को भी फोन पर इन उपायों को करने की सलाह दे रहे हैं। हालांकि स्वास्थ्य विभाग की टीम इन अफवाहों पर नजर रख रही है और लोगों को इनपर ध्यान न देने को कहा जा रहा है।

चिकित्सा अधीक्षक डॉ रामबहादुर यादव ने कहा कि यह बातें सिर्फ कोरी बकवास है,इन पर विश्वास न करके साफ सफाई और जागरूकता पर ध्यान दें। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार लोगों को कोरोना के प्रति जागरूक करने में जुटी हुई है।

रायबरेली। कोरोना से बचने के लिए जहां गोमूत्र, तुलसी आदि से इलाज के दावे हो रहे हैं, वहीं इसको लेकर तरह-तरह की अफवाहों का बाजार भी गर्म है। इन अफवाहों में आकर लोग अन्धविश्वसों का सहारा ले रहे हैं। ग्रामीण अंचलों में ये अफवाहें अपना पैर पसार रही हैं और इनको सही मानकर इन उपायों को लोग कर रहें हैं। हालांकि स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातर इन अंधविश्वास से बचने की अपील कर रही है। रायबरेली के कई क्षेत्रों में कोरोना को लेकर कई तरह की अफवाहों की चर्चा है इनमें घर के सामने सात दिन तक दिया जलाना, छोटे बच्चों को मिठाई खिलाना,सास द्वारा बहु को साड़ी भेंट देना सहित कई बातें हैं। ये सभी तेजी से फैल रही है और लोग उनपर विश्वास कर इन उपायों को आजमा भी रहे हैं। महिलायें खासकर इनमें आगे हैं। ग्रामीण अंचलों में लोग इन अन्धविश्वसों को कर भी रहे है और अन्य को भी इसे करने को प्रेरित कर रहे हैं। इन अंधविश्वासों के सहारे कोरोना से बचने के दावे किए जा रहे हैं। लोग अपने सगे संबंधियों को भी फोन पर इन उपायों को करने की सलाह दे रहे हैं। हालांकि स्वास्थ्य विभाग की टीम इन अफवाहों पर नजर रख रही है और लोगों को इनपर ध्यान न देने को कहा जा रहा है। चिकित्सा अधीक्षक डॉ रामबहादुर यादव ने कहा कि यह बातें सिर्फ कोरी बकवास है,इन पर विश्वास न करके साफ सफाई और जागरूकता पर ध्यान दें। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार लोगों को कोरोना के प्रति जागरूक करने में जुटी हुई है।