जम्मू-कश्मीर: बांदीपुरा में आतंकी हमले में शहीद हुआ जांबाज ’24 आवर ड्यूटी कॉप’

%e0%a4%9c%e0%a4%ae%e0%a5%8d%e0%a4%ae%e0%a5%82 %e0%a4%95%e0%a4%b6%e0%a5%8d%e0%a4%ae%e0%a5%80%e0%a4%b0 %e0%a4%ac%e0%a4%be%e0%a4%82%e0%a4%a6%e0%a5%80%e0%a4%aa%e0%a5%81%e0%a4%b0%e0%a4%be %e0%a4%ae

श्रीनगर| जम्मू-कश्मीर के बांदीपुरा जिले में लश्कर-ए-तैयबा के संदिग्ध आतंकवादियों ने बुधवार को पुलिस सब-इंस्पेक्टर अल्ताफ अहमद की गोली मारकर हत्या कर दी। अल्ताफ को सुरक्षा बलों के अभियान में एक अहम शख्स माना जाता था और उन्हें कई आतंकवादी ठिकानों को ध्वस्त करने और खुफिया सूचनाएं जुटाकर कई आतंकवादियों को मार गिराने का भी श्रेय जाता है। अल्ताफ अहमद की हत्या से जम्मू कश्मीर पुलिस को तगड़ा झटका लगा है।

अल्ताफ लश्कर-ए-तैयबा के कमांडर और उधमपुर हमले के मास्टरमाइंड अब्दुल रहमान उर्फ कासिम के बारे में मिली एक सूचना पर उसे पकड़ने के लिए गए थे। इस दौरान पहले से घात लगाए बैठे आतंकियों ने उनकी गोली मार दी। अल्ताफ तो तुरंत नजदीक के अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

अल्ताफ के शहीद होने से स्टेट पुलिस डिपार्टमेंट को गहरा झटका लगा है। अल्ताफ को जम्मू-कश्मीर पुलिस के आतंकवादियों के खिलाफ चलाए जाने वाले ऑपरेशंस में माहिर अफसर माना जाता था। उनका इंटेलिजेंस नेटवर्क बेहद मजबूत था। अल्ताफ ने पुलिस फोर्स एक कॉन्स्टेबल के तौर पर ज्वॉइन की थी। अल्ताफ ’24 ऑवर ड्यूटी कॉप’ यानी चौबीसों घंटे ड्यूटी करने वाले पुलिसकर्मी के तौर पर मशहूर थे।

श्रीनगर| जम्मू-कश्मीर के बांदीपुरा जिले में लश्कर-ए-तैयबा के संदिग्ध आतंकवादियों ने बुधवार को पुलिस सब-इंस्पेक्टर अल्ताफ अहमद की गोली मारकर हत्या कर दी। अल्ताफ को सुरक्षा बलों के अभियान में एक अहम शख्स माना जाता था और उन्हें कई आतंकवादी ठिकानों को ध्वस्त करने और खुफिया सूचनाएं जुटाकर कई आतंकवादियों को मार गिराने का भी श्रेय जाता है। अल्ताफ अहमद की हत्या से जम्मू कश्मीर पुलिस को तगड़ा झटका लगा है।अल्ताफ लश्कर-ए-तैयबा के कमांडर और उधमपुर हमले के मास्टरमाइंड अब्दुल…