दिल्ली में NRC लागू हुआ तो सबसे पहले मनोज तिवारी जाएंगे- केजरीवाल

arvind
लॉकडाउन: दिल्ली के सीएम केजरीवाल बोले 'आप' की सरकार कोरोना से चार कदम आगे

नई दिल्ली। असम में एनआरसी की सूची जारी होने के बाद से देश के अन्य राज्यों में भी इसे लागू करने की मांग हो रही है। दिल्ली बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी भी दिल्ली में एनआरसी को लागू करवाने की बात कह चुके हैं। इस बीच दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को कहा कि अगर दिल्ली में एनआरसी लागू हुआ तो सबसे पहले मनोज तिवारी को जाना होगा।

%e0%a4%a6%e0%a4%bf%e0%a4%b2%e0%a5%8d%e0%a4%b2%e0%a5%80 %e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82 Nrc %e0%a4%b2%e0%a4%be%e0%a4%97%e0%a5%82 %e0%a4%b9%e0%a5%81%e0%a4%86 %e0%a4%a4%e0%a5%8b %e0%a4%b8%e0%a4%ac%e0%a4%b8 :

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को कहा कि अगर दिल्ली में एनआरसी लागू हुआ तो सबसे पहले मनोज तिवारी को ही जाना होगा। गौरतलब है कि 31 अगस्त को दिल्ली बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष और उत्तर पूर्वी दिल्ली से सांसद मनोज तिवारी ने दिल्ली में भी एनआरसी लागू करने की बात की थी।

आपको बता दें कि मनोज तिवारी ने एक समाचार एजेंसी से कहा था कि दिल्ली में एनआरसी की जरुरत हो गई है क्योंकि स्थित काफी खतरनाक हो गई है। अवैध अप्रवासी जो यहां पर आकर बस गए हैं, वे काफी खरतनातक हैं। हम यहां पर एनआरसी लागू करेंगे।

ऐसा पहली बार नहीं है जब मनोज तिवारी ने राष्ट्रीय राजधानी से अवैध अप्रवासियों को भगान के लिए एनआरसी की मांग की हो। उन्होंने इस साल मई में इसी तरह का बयान दिया था जब दिल्ली के मोती नगर इलाके में एक शख्स की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई थी। उन्होंने उस वक्त कहा था कि संदिग्ध हत्यारा रोहिंग्या या फिर बांग्लादेशी हो सकता है।

नई दिल्ली। असम में एनआरसी की सूची जारी होने के बाद से देश के अन्य राज्यों में भी इसे लागू करने की मांग हो रही है। दिल्ली बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी भी दिल्ली में एनआरसी को लागू करवाने की बात कह चुके हैं। इस बीच दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को कहा कि अगर दिल्ली में एनआरसी लागू हुआ तो सबसे पहले मनोज तिवारी को जाना होगा। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को कहा कि अगर दिल्ली में एनआरसी लागू हुआ तो सबसे पहले मनोज तिवारी को ही जाना होगा। गौरतलब है कि 31 अगस्त को दिल्ली बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष और उत्तर पूर्वी दिल्ली से सांसद मनोज तिवारी ने दिल्ली में भी एनआरसी लागू करने की बात की थी। आपको बता दें कि मनोज तिवारी ने एक समाचार एजेंसी से कहा था कि दिल्ली में एनआरसी की जरुरत हो गई है क्योंकि स्थित काफी खतरनाक हो गई है। अवैध अप्रवासी जो यहां पर आकर बस गए हैं, वे काफी खरतनातक हैं। हम यहां पर एनआरसी लागू करेंगे। ऐसा पहली बार नहीं है जब मनोज तिवारी ने राष्ट्रीय राजधानी से अवैध अप्रवासियों को भगान के लिए एनआरसी की मांग की हो। उन्होंने इस साल मई में इसी तरह का बयान दिया था जब दिल्ली के मोती नगर इलाके में एक शख्स की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई थी। उन्होंने उस वक्त कहा था कि संदिग्ध हत्यारा रोहिंग्या या फिर बांग्लादेशी हो सकता है।