धर्म पर राजनीति करने वाले इस हिन्दू परिवार की सद्भावना को देखें

दादरी| उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा के दादरी इलाके में नफरत की तमाम कहानियों के बीच गांव में सदभाव की बड़ी खबर पता चली है| गांव के हिंदुओं की उग्र भीड़ जब अखलाक के घर को घेरे हुए थी तब पड़ोस में रहने वाले राणा परिवार ने अखलाक के परिवार की तीन महिलाओं, एक पुरुष और एक छोटे बच्चे को अपने घर में शरण देकर जान बचाई| पड़ोस की शशि देवी और विष्णु राणा ने अपने घर में रात भर पहरा दिया और भीड़ से अखलाक के परिवार की हिफाजत की|

शशि देवी गांव के सामाजिक ताने बाने को बेहतर तरीके से जानती हैं लेकिन एक तो हिन्दू धर्म और ऊपर से उत्तेजित भीड़ उन्हें विचलित कर रही थी| उस समय तक उनके पति जो पेशे से प्रोडक्शन इंजीनियर हैं वो भी नहीं आये थे| तकरीबन 11 बजे रात में विष्णु राणा घर वापस आए| रात भर ये हिन्दू परिवार इसलिए जागता रहा ताकि घर में शरण लिए हुए लोग चैन से रह सकें|

ये इंसानियत थी जिसने एक दूसरे की मदद की| विष्णु राणा कहते हैं सालों से इस गांव में धर्म जात बिरादरी कोई मुद्दा ही नहीं रहा| अगर कुछ गलत हुआ भी था तो लोग कानून का रास्ता ले सकते थे|