धोनी इहितास रचने से मात्र एक कदम दूर…

%e0%a4%a7%e0%a5%8b%e0%a4%a8%e0%a5%80 %e0%a4%87%e0%a4%b9%e0%a4%bf%e0%a4%a4%e0%a4%be%e0%a4%b8 %e0%a4%b0%e0%a4%9a%e0%a4%a8%e0%a5%87 %e0%a4%b8%e0%a5%87 %e0%a4%ae%e0%a4%be%e0%a4%a4%e0%a5%8d%e0%a4%b0

लखनऊ। बीते रविवार को राजकोट में खेले गए तीसरे एकदिवसीय मुक़ाबले में टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी द्वारा बनाए गए 47 रन भले ही दक्षिण अफ्रीका को हराने में नाकाम साबित हुए हो लेकिन उनकी इस पारी ने उन्हे एक नई उपलब्धि तक पहुंचा दिया है। दरअसल, इन 47 रनों के साथ ही धोनी कप्तान के रूप में सबसे अधिक रन बनाने वालों में दूसरे क्रम पर पहुँच गए हैं। अब उनके आगे पर आस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग हैं।

रविवार को 47 रन बनाकर धोनी ने दूसरे नंबर पर काबिज न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान स्टीफन फ्लेमिंग (6295) को पीछे छोड़ दिया है। इन रनों की मदद से धोनी ने मैचों की 159 पारियों में 48 बार नाबाद रहते हुए 56.87 के औसत से 6313 रन बना लिए हैं। वहीं पोंटिंग (8497) अभी भी उनसे 2184 रन आगे हैं। धोनी की कप्तानी पारियों छह शतक और 46 अर्धशतक शामिल है। जबकि वह दो बार शून्य पर भी आउट हुए हैं।

आपको बता दें कि पोंटिंग ने 230 मैचों में 22 शतकों और 51 अर्धशतकों की मदद से इतने रन बनाए हैं। दूसरी ओर, फ्लेमिंग ने 218 मैचों में सात शतक और 38 अर्धशतक की मदद से इतने रन जुटाए हैं।

अब देखना यह है कि क्या धोनी पोंटिंग का रिकॉर्ड तोड़ पाते हैं। वैसे तो कप्तान धोनी अभी 34 साल के हैं और अभी भी उनके पास एक-दो साल का क्रिकेट और बचा है लेकिन उनकी कप्तानी पर बार-बार सवालिया निशान लग रहे हैं। धोनी के स्थान पर विराट कोहली को एकदिवसीय कप्तान बनाने की बात चल रही है। कोहली पहले ही धोनी के टेस्ट मैचों से संन्यास के बाद टेस्ट कप्तान बनाए जा चुके हैं।

 

 

 

 

लखनऊ। बीते रविवार को राजकोट में खेले गए तीसरे एकदिवसीय मुक़ाबले में टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी द्वारा बनाए गए 47 रन भले ही दक्षिण अफ्रीका को हराने में नाकाम साबित हुए हो लेकिन उनकी इस पारी ने उन्हे एक नई उपलब्धि तक पहुंचा दिया है। दरअसल, इन 47 रनों के साथ ही धोनी कप्तान के रूप में सबसे अधिक रन बनाने वालों में दूसरे क्रम पर पहुँच गए हैं। अब उनके आगे पर आस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग…