नगर में नकली डीजल फैक्ट्री का हुआ भंडाफोड़

सुलतानपुर: महीनों से चल रहे अवैध गोरखधंधे का भंडाफोड़ आखिरकार हो गया। पुलिस व प्रशासन के अधिकारियों के छापेमारी के दौरान नकली डीजल बनाने की फैक्ट्री का खुलासा हुआ। एसडीएम के निर्देश पर जिलापूर्ति अधिकारी ने मौके पर अपनी टीम के साथ पहुंचकर नकली मोबिल, डीजल, कई ड्रम कैरोसिन आयल व उपकरण बरामद किये।

सोमवार की सुबह करीब 11 बजे एसडीएम सदर को सूचना मिली कि कोतवाली नगर अन्तर्गत गोराबारिक इलाके में नकली डीजल बनाने की फैक्ट्री संचालित है। एसडीएम व सीओ ने मौके पर पहुंचकर छापेमारी की। छापेमारी की भनक लगते ही वहां पर काम कर रहे मजदूर भाग खड़े हुए। एसडीएम ने मामले की गंभीरता को देखते हुए इसकी जांच जिला पूर्ति अधिकारी संजय कुमार प्रसाद को सौंप दी। मौके पर पहुंचे जिलापूर्ति अधिकारी श्री प्रसाद ने कई ड्रम कैरोसिन आयल, नकली डीजल व मोबिल और बनाने के उपकरण भी बरामद किये। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है और यह पता लगाने की कोशिश हो रही है कि यह फैक्ट्री कब से संचालित है।

इस गोरखधंधे में कैरोसिन कहां से आता था। डीएसओ श्री प्रसाद ने बताया कि गोराबारिक में एक अर्द्धनिर्मित अहाते में जोकि संगमलाल नामक व्यक्ति का बताया जाता है, में अवैध रूप से यह कारोबार संचालित किया जा रहा था। मामले में कार्रवाई के बारे में जब उनसे पूछा गया तो उन्होंने कहा कि अभी जांच चल रही है। छापेमारी के दौरान क्षेत्रिय खाद्य अधिकारी अजय सिंह आपूर्ति निरीक्षक प्रदीप तिवारी व अन्य विभागीय निरीक्षक व कर्मचारी उपस्थित रहे।

जिले में नकली डीजल बनाने का गोरखधंधा नया नहीं है। यह कई सालों से अलग अलग स्थानों पर फल फूल रहा है। कभी कभार जब पेशगी का मामला उलझता है या दबाव पड़ता है तो ऐसी कार्रवाई की जाती है कि जिस पर खुद ब खुद सवाल खड़े होने लगते हैं। सवाल यही है कि कोतवाली नगर की गभडि़या चैकी के इतने करीब स्थान पर संचालित होने वाले अवैध व्यापार का स्थानीय पुलिस को भनक कैसे नहीं लगी।

पूरे मामले को देखकर ऐसा लगता है कि पुलिस तंत्र पूरी तरह नाकाम है या फिर अवैध कारोबारियों से मिला हुआ है। सवाल यह भी है कि छापेमारी के दौरान मौके से किसी की गिरफ्तारी क्यों नहीं हुई। सूत्रों की माने तो पूरे मामले को दबाने की कोशिश की जा रही है। देखना होगा कि परदे के पीछे चल रहे इस गोरखधंधे के आरोपियों पर कार्रवाई हो पाती है या पहले की तरह ही महज खानापूर्ति की जायेगी।

सुलतानपुर से बृजेश श्रीवास्तव की रिपोर्ट