पंचायत चुनाव में बिरादरी की बात ना मानना महंगा पड़ा, हुक्का पानी बंद

बिजनौर। पंचायत चुनाव में बिरादरी की बात न मानना एक व्यक्ति को महंगा पड गया। चुनाव खत्म होते ही बिरादरी की पंचायत ने उसका हुक्का पानी बन्द करने का फरमान सुना दिया। जानकारी के अनुसार थाना नूरपुर क्षेत्र के ग्राम दौलतपुर में बीडीसी पद के चुनाव में एक व्यक्ति ने बिरादरी की चेतवनी के बावजूद अपने ही गांव के गैर बिरादरी के प्रत्याशी का समर्थन किया। इस व्यक्ति ने गैर बिरादरी के इस प्रत्याशी को न केवल जी जान से चुनाव लडवाया, बल्कि अपने पूरे परिवार के वोट भी उसके पक्ष में डलवाए।

चुनाव समाप्त होने के बाद शाम को पहले तो बिरादरी के लोगो ने उसको जमकर फटकार लगाई। जब बिरादरी के इन ठेकेदारों का इससे भी मन नही भरा तो उन्होंने कल रात्री गांव में एक गुप्त स्थान पर बिरादरी की पंचायत लगाई। पंचायत में उक्त व्यक्ति पर बिरादरी की मुखालफत करने का आरोप लगाते हुए भविष्य में बिरादरी के किसी भी आदमी के घर पर जाने की पाबंदी एंव उक्त व्यक्ति से संबन्ध रखने वालों का भी हुक्का पानी बन्द करने का फरमान सुना डाला।

फिलहाल मांमले में कोई कानूनी कार्रवाही होने की जानकारी नही है। उधर इस संबनध में थाना प्रभारी प्रदीप यादव का कहना है कि इस मांमले की न तो उन पर कोई सूचना है और न ही कोई शिकायत आई है। यदि कोई शिकायत आती है तो पंचायत लगाकर तुगलकी फरमान सुनाने वाले आरोपियों पर सख्त कार्रवाही की जायेगी।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट