पंजाब: धर्म ग्रंथ के अपमान के बाद भड़की हिंसा, सिख समुदाय और पुलिस के बीच फायरिंग

चंडीगढ़। पंजाब के गांव बुर्ज जवाहरसिंहवाला में गुरु ग्रंथ साहिब के पावन स्वरूप की बेअदबी से भड़की सिख संगत ने सड़कों पर उतरकर जमकर हंगामा किया। बुधवार सुबह सिखों तथा पुलिस में झड़प हो गई। जिसके बाद दोनों ओर से फायरिंग की गई। इस घटना में कुछ पुलिस कर्मियों और सिख समुदाय के लोगों के घायल होने की खबर है।

आरोप है कि पंजाब में धार्मिक ग्रंथ को किसी डेरे के लोगों ने फाड़ दिया। इसके विरोध में कल से फरीदकोट हाई-वे पर प्रदर्शन चल रहा था। बुधवार को जब पुलिस प्रदर्शन हटाने के लिए गई तो लोग उग्र हो गए। लोगों ने पुलिस पर हमला कर दिया और पूरा आंदोलन हिंसक हो गया।

पहले पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े लेकिन इसका कोई असर नहीं हुआ। बताया जा रहा है कि हालात पर काबू पाने के लिए पुलिस ने फायरिंग की। जिसके बाद सिख समुदाय की तरफ से भी फायरिंग की गई| इस हंगामें में कई लोगों के घायल होने की सूचना है। मौके पर भारी संख्या में सुरक्षाबल की तैनाती की गई है।

वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने मामले की निंदा करते हुए पुलिस और प्रशासन को सख्त से सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।