पुल की रेलिंग पर खून से सुसाइड नोट लिख लगा दी नदी में छलांग, मौत

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के कृष्ण नगर इलाके में इकतरफा प्यार के चलते शुक्रवार शाम छात्रा पर चाकू से हमला करके फरार सिरफिरे युवक ने शनिवार रात गोमती में कूदकर जान दे दी। इससे पहले गोमतीनगर इलाके में शहीद पथ के किनारे बाइक खड़ी करके हाथ की नस काटी और पुल की रेलिंग पर सुसाइड नोट के साथ मोबाइल नंबर लिखा।आलमबाग के आजादनगर निवासी सूरज कनौजिया 23 बीए का छात्र था। इस वर्ष उसने फैजाबाद विश्वविद्यालय से स्नातक…

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के कृष्ण नगर इलाके में इकतरफा प्यार के चलते शुक्रवार शाम छात्रा पर चाकू से हमला करके फरार सिरफिरे युवक ने शनिवार रात गोमती में कूदकर जान दे दी। इससे पहले गोमतीनगर इलाके में शहीद पथ के किनारे बाइक खड़ी करके हाथ की नस काटी और पुल की रेलिंग पर सुसाइड नोट के साथ मोबाइल नंबर लिखा।

आलमबाग के आजादनगर निवासी सूरज कनौजिया 23 बीए का छात्र था। इस वर्ष उसने फैजाबाद विश्वविद्यालय से स्नातक की पढ़ाई शुरू की थी। सूरज के पिता रामसुमेर कुवैत में कपड़ों का काम करते हैं। बताया जाता है कि करीब तीन दिन पहले सूरज ने कृष्णानगर इलाके में एक युवती को चाकू मार दिया था जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गई। घटना के बाद युवती के परिजनों ने सूरज के खिलाफ जानलेवा हमले की रिपोर्ट दर्ज करा दी। एफआईआर दर्ज होने के बाद सूरज पुलिस के डर से फरार हो गया।

परिजन उसकी तलाश में जुटे लेकिन उसका सुराग नहीं मिला। जिसके बाद शनिवार को परिजनों ने सूरज की गुमशुदगी कृष्णानगर इलाके में दर्ज कराई। पुलिस उसकी तलाश कर रही थी कि उसे जानकारी मिली एक युवक का शव चिनहट इलाके में गोमती में मिला है। पुलिस सूरज के भाई संजय को लेकर मौके पर पहुंची जहां संजय ने शव की शिनाख्त सूरज के रूप में की। पुलिस ने सूरज की बाइक शहीद पथ से बरामद की है। पुलिस का कहना है कि सूरज ने आत्महत्या की है।

एसओ गोमतीनगर श्यामबाबू शुक्ला ने बताया कि गोमतीनगर विस्तार में शहीद पथ के किनारे बाइक लावारिस खड़ी देख एक व्यक्ति ने रविवार सुबह 5:57 बजे पुलिस कंट्रोल रूम फोन किया। चौकी इंचार्ज संतोष कुमार मौके पर पहुंचे। बाइक के नंबर के आधार पर तहकीकात की। पता चला कि बाइक आलमबाग के चंदरनगर निवासी आरसी कनौजिया की पत्नी ज्योति के नाम रजिस्टर्ड है। इस बीच पुल की रेलिंग पर खून से लिखा नजर आया ‘मैं जान दे रहा हूं-सूरज’ इसके साथ एक मोबाइल नंबर लिखा था। कॉल करने पर कृष्णानगर के आजादनगर निवासी सविता से बात हुई।

पता चला कि उसके भाई सूरज ने बुधवार शाम मोहल्ले में रहने वाली छात्रा अर्चना उर्फ पूनम नामक छात्रा को चाकू मारकर घायल कर दिया था। छात्रा के पिता सुभाष खरवार ने कातिलाना हमले की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इसके बाद से सूरज फरार था। उसके गोमती में कूदने की सूचना पर सविता अपने दूसरे भाई संजय, मां सियादुलारी व परिवार के अन्य लोगों के साथ शहीद पथ पर पहुंची।

Loading...