बागपत: 80 लोगों से भरी नाव नदी में डूबी, 22 लोगों की मौत

बागपत। यहां के यमुना नदी में गुरुवार को नाव पलट जाने से 22 लोगों की मौत हो गई वहीं 12 लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है। नाव पर करीब 80 लोग सवार थे जब नाव न संतुलन बिगड़ गया। जिसके बाद नाव यमुना नदी में समा गयी। सूचना मिलते ही इलाके में हड़कंप मच गया। पुलिस की टीम ने घटना स्थल पर पहुंच बचाव शुरू कर दिया है हालांकि अभी तक मृतकों के संख्या की आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। घटना की जानकरी मिलने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपए देने का ऐलान किया है।

नाव पर सवर थे 80 लोग

प्रत्यक्षदर्शियों की माने तो नाव पर क्षमता से अधिक लोग सवर थे जिस वजह से नाव का संतुलन बिगड़ गया जिसके बाद नाव नदी में समा गयी। नाव पर अधिकतर मजदूर सवर थे जो मजदूरी के लिए नाव से जा रहे थे। वहीं पुलिस और आसपास के लोगों ने लोगों को नदी से निकालर प्राथमिक चिकित्सा दी।

{ यह भी पढ़ें:- खबर का असर: 1000 करोड़ की बंद अमृत योजनाओं की पुनर्समीक्षा करेगा जल निगम }

उधर, जब लाशों के निकलने का सिलसिला शुरू हुआ तो पांच लाशों के बाद ग्रामीणों ने लाश भेजने से मना कर दिया और यमुना किनारे ही लाशों का ढेर लगाने लगे। पुलिस ने लाश को ले जाने की कोशिश की लेकिन ग्रामीणों के विरोध के आगे उनकी नहीं चल सकी। अभी तक यमुना किनारे ही लाशें रखी हुई हैं। इस घटना से हाहाकार के हालात हैं।

मृतकों के परिजनों को 2 लाख देगी सरकार

सीएम योगी ने बागपत में नाव पलटने की घटना पर दुख जताते हुए संवेदना व्यक्त की। उन्होंने डीएम को मृतकों के परिजनों को हर संभव राहत मुहैया कराने के निर्देश दिए हैं। साथ ही मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपए की आर्थिक राहत देने की घोषणा की है।

{ यह भी पढ़ें:- छात्राओं को अक्सर छेड़ता था मनचला, परिजनों ने धुनाई के बाद पुलिस को सौंपा }

Loading...