बिना बहुमत के सरकार बनाकर भाजपा ने की संविधान की हत्या : राहुल गांधी

rahul gandhi
बिना बहुमत के सरकार बनाकर भाजपा ने की संविधान की हत्या : राहुल गांधी
कर्नाटक। कर्नाटक में येदियुरप्पा के शपथ ग्रहण के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सरकार पर तीखा हमला बोला हैं। भाजपा की इस करतूत के बाद कहा कर्नाटक में बिना बहुमत वाली सरकार बनी है। राहुल गांधी ने इसे संविधान पर जोरदार हमला करार देते हुए उसकी हत्या करार किया है। उन्होने कहा कि इसका हम एकजुट होकर विरोध करेंगे। बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष छत्तीसगढ़ में जनस्वराज सम्मेलन को संबोधि‍त करने पहुंचे थे। उन्होने कहा कि देश की सभी संस्थाएं…

कर्नाटक। कर्नाटक में येदियुरप्पा के शपथ ग्रहण के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सरकार पर तीखा हमला बोला हैं। भाजपा की इस करतूत के बाद कहा कर्नाटक में बिना बहुमत वाली सरकार बनी है। राहुल गांधी ने इसे संविधान पर जोरदार हमला करार देते हुए उसकी हत्या करार किया है। उन्होने कहा कि इसका हम एकजुट होकर विरोध करेंगे।

बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष छत्तीसगढ़ में जनस्वराज सम्मेलन को संबोधि‍त करने पहुंचे थे। उन्होने कहा कि देश की सभी संस्थाएं डरी हुई है, यहां तक कि जज भी डरे हुए है। उन्होने भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि एक तरफ एक हत्यारोपी देश की राष्ट्रीय पार्टी का प्रमुख बना बैठा है, सुप्रीम कोर्ट के चार जज स्वतंत्रतापूर्व काम न कर पाने के आरोप लगा रहे है, जबकि प्रेस भी डर के मारे काम नही कर पा रहा है।

{ यह भी पढ़ें:- इस बार टॉपर्स के लिए आए लैपटॉप से गायब हो गई मुलायम की तस्वीर }

राहुल गांधी ने कहा कि किसी भी लोकतांत्रिक देश में ऐसा नही होता हैं, ऐसी घटनाएं तो पाकिस्तान और अफ्रीका जैसे देशों में होती है। जैसे वहां जनरल पहुंचकर कोर्ट और प्रेस को दबा देता है। वैसे ही यहां भाजपा ने किया है। उन्होने कहा कि हिन्दुस्तान के 70 सालों के इतिहास में ऐसी तानाशाही पहली बार देखने को मिली है।

बता दें कि जनस्वराह सम्मेलन को सम्बोधि करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि जब किसानों ने अपना कर्ज माफ करने की बात कही तो अरूण जेटली बोले कि ये हमारी सरकार की पॉलिशी में नही हैं वही दूसरी तरफ पद्रंह बड़े लोगों का एक साल के अंदर ढाई लाख करोड़ रूपए का कर्ज माफ कर दिया गया। इस बारे में अरूण जेटली ने एक शब्द भी नही बोला।

{ यह भी पढ़ें:- कर्नाटक की सियासत में उठापटक जारी, अब सामने आया ये मामला }

उन्होंने कहा, ‘आरएसएस और भाजपा नहीं चाहते कि इस देश में गरीबों को सुना जाए। उनके मुताबिक गरीब महिलाओं काम सिर्फ खाना बनाना है। इसके अलावा दलितों का काम सिर्फ सफाई करना है। उन्होने कहा कि भाजपा और आरएसएस का लक्ष्य सिर्फ महिलाओं, गरीबों और किसानों की आवाज दबाकर देश का धन चंद पैसेवाले और गरीब लोगों को फायदा पहुंचाना है।

Loading...