मप्र में अब कांग्रेस के नेताओं व कार्यकर्ताओं के घरों पर लगेगा झण्डा

भोपाल। मध्य प्रदेश में अब आप घर देखकर ही जान जाएँगे कि यह कांग्रेसी नेता का घर है या नहीं। क्योंकि अगर व किसी कांग्रेस नेता व वरिष्ठ कार्यकर्ता का घर है तो उस घर पर पार्टी का झण्डा जरूर लगा रहेगा। दरअसल, कांग्रेस की मध्य प्रदेश इकाई के पूर्व पदाधिकारी गोविंद गोयल ने नई कार्यकारिणी में पद न मिलने पर विरोध में कांग्रेस नेताओं तथा वरिष्ठ कार्यकर्ताओं के घर पर पार्टी का झंडा लगाने का अभियान बुधवार से शुरू कर दिया है। साथ ही उन्होंने भोपाल में होने वाले प्रदेश इकाई की कार्यकारिणी की बैठक में गांधी टोपी और फूल बांटने का एलान भी किया है।

राजधानी भोपाल में गोयल बुधवार को कांग्रेस नेताओं के घरों पर पार्टी के झंडे लेकर पहुंच गए। उन्होंने कार्यकर्ताओं के साथ प्रदेशाध्यक्ष अरुण यादव, विधायक डा. गोविंद सिंह सहित अन्य नेताओं के घरों पर पार्टी का झंडा लगाया। उन्होंने कहा कि वे चाहते हैं कि कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं में नया जोश आए, जिससे सोनिया गांधी और राहुल गांधी के नेतृत्व में देश तथा प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बने। 

प्रदेश कार्यकारिणी के विस्तार में स्थान न मिलने से गोयल नाराज चल रहे हैं, वे गांधी जयंती पर मौन धरना देकर अपना विरोध भी दर्ज करा चुके हैं। गोयल की गिनती कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव दिग्विजय सिंह के करीबियों में है। वहीं उनके आवास पर आयोजित एक समारोह में भाजपा नेताओं की मौजूदगी ने कई कयासों को जन्म दे दिया है। गोयल ने कहा कि वे चाहते हैं कि नई कार्यकारिणी पूरी उर्जा और महात्मा महात्मा गांधी के सिद्घांतों को आत्मसात कर चले, इसके लिए वे कार्यकारिणी की बैठक में पदाधिकारियों को गांधी टोपी और फूल भेंट करेंगे।