मां का जिक्र आते ही रो पड़े प्रधानमंत्री मोदी

न्यूयार्क। प्रधानमंत्री मोदी ने सिलिकॉन वैली स्थित फेसबुक मुख्यालय में मार्क जुकरबर्ग के साथ टाउनहाल में लोगों के सवालों के जवाब दिए। इस दौरान मां का जिक्र आते ही मोदी की आँखे भर आईं। उन्होंने कहा कि हमारे पिताजी यो नहीं रहे, माता जी हैं, 90 साल से ज्यादा उम्र है।  आज भी अपने सारे काम खुद ही करती हैं। जब हम छोटे थे तो हमारा गुजारा करने के लिए वो आस पड़ोस के घरों में बर्तन साफ़ करती थीं। आप कल्पना कर सकते हैं एक मां  ने अपने बच्चों को बड़ा करने के लिए कितना कष्ट उठाया।

मोदी ने भरे गले से जब अपने बचपन व मां के बारे में ये बाते कहीं तो कार्यक्रम में मौजूद सभी लोग भावुक हो उठे और बाद में सबने खडे़े होकर देर तक तालियां बजाते हुए उनकी भावनाओं से खुद को जोड़ा। इस अवसर पर मार्क के माता पिता भी उपस्थित थे।

{ यह भी पढ़ें:- 36 सालों बाद भारतीय प्रधानमंत्री की पहली फिलीपींस यात्रा, कल होगी ट्रंप से मुलाकात }

मोदी ने कहा, “हर किसी के जीवन में दो लोगों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है… एक अध्यापक और दूसरी मां की। मेरे जीवन में मेरे मां बाप का बहुत बड़ा योगदान रहा। मैं काफी गरीब परिवार से हूं, लोग जानते हैं कि मैं रेलवे स्टेशन पर चाय बेचता था। कोई कल्पना नहीं कर सकता कि दुनिया के इतने बड़े लोकतंत्र ने नेता माना। इसके लिए मैं देश की सवा अरब जनता को नमन करता हूं जिन्होंने मुझ जैसे व्यक्ति को अपना बना लिया।”

अपने बचपन का जिक्र करते हुए वह बहुत भावुक हो उठे और कहा कि वह बहुत सामान्य परिवार से हैं.. पिता नहीं रहे, माता हैं जो अब 90 साल की हैं लेकिन सारे काम खुद करती हैं। पढी लिखी नहीं है लेकिन टीवी से समाचार से उन्हें पता रहता है कि दुनिया में क्या चल रहा है।

{ यह भी पढ़ें:- नोटबंदी की पहली वर्षगांठ पर बोले राहुल, पीएम मोदी लोकतांत्रिक तरीके से चुने गये तानाशाह }

Loading...