यहां हो रही पत्थरों की बारिश, दहशत में हैं ग्रामीण

भोपाल| मध्य प्रदेश के मंडला जिले के फूलसागर गांव में आसमान से पत्थर बरस रहे हैं। बड़े-बड़े पत्थर बरसने से घरों के छप्पर के खपरे और सीमेंटेड चद्दरें टूट गई है। दरसअल, मंडला जिले के फूलसागर गांव के ठाकुर मोहल्ले में पिछले 24 घंटो से एक अजीब घटना घट रही है, जिससे पूरा गांव दहशत में है। सड़क पर भी लोगों के आगे पीछे पत्थर गिर रहे हैं, लेकिन किसी ग्रामीण के ऊपर ये पत्थर नहीं गिरे। पिछले 24 घंटों…

भोपाल| मध्य प्रदेश के मंडला जिले के फूलसागर गांव में आसमान से पत्थर बरस रहे हैं। बड़े-बड़े पत्थर बरसने से घरों के छप्पर के खपरे और सीमेंटेड चद्दरें टूट गई है। दरसअल, मंडला जिले के फूलसागर गांव के ठाकुर मोहल्ले में पिछले 24 घंटो से एक अजीब घटना घट रही है, जिससे पूरा गांव दहशत में है। सड़क पर भी लोगों के आगे पीछे पत्थर गिर रहे हैं, लेकिन किसी ग्रामीण के ऊपर ये पत्थर नहीं गिरे। पिछले 24 घंटों से पत्थर बरसने से ग्रामीण दहशत में अपने घरों से बाहर निकल गए हैं।

ग्रामीणों का दावा है कि उनके गांव में अचानक घरों की छत पर बड़े-बड़े पत्थर बरसने लगे, जिससे खपरे और सीमेंटेड चद्दरें टूट गई हैं। शुरू में लगा की ये किसी की शरारत है। जिसके बाद ग्रामीणों ने पूरे गांव का चप्पा-चप्पा छान मारा, लेकिन कोई पत्थर फेंकने वाला नहीं मिला। ग्रामीण अब इसे दैवीय प्रकोप समझने लगे हैं। अब गांव वाले पूजा-पाठ कराने में जुट गए हैं। गांव का पंडा देवी-देवताओं से पत्थर की बारिश बंद कराने की प्रार्थना कर रहा है। उसका कहना है कि उसने अपने जीवन में पहली बार इस तरह की घटना देखी है।

उसे उम्मीद है कि पूजा-पाठ से दैवीय प्रकोप दूर हो जाएगा। इस घटना से गांव में सभी दहशत में जी रहे हैं। डरे हुए ग्रामीणों ने खाना-पीना बंद कर दिया है। किसी अनहोनी के भय से पूरा गांव अपने घरों से बाहर सड़कों पर निकल आया है। जिला पंचायत के उपाध्यक्ष भी इस घटना से सकते में हैं। उनका कहना है कि वे अंधविास पर यकीन नहीं करते, इसलिए जैसे ही घटना का पता चला तो वो खुद गांव पहुंचे। गांव में ग्रामीणों से बातचीत के दौरान जब उनकी आंखों के सामने अचानक बड़ा पत्थर गिरा तो उनकी आंखें फटी की फटी रह गई।

Loading...