यूपी की कानून व्यवस्था भगवान भरोसे

लखनऊ| भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर तीखा हमला बोलते हुए प्रदेश की कानून व्यवस्था को कोमा में बताया है। प्रदेश प्रवक्ता हरिश्चन्द्र श्रीवास्तव ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि सपा सरकार को सीतापुर जनपद के दो वर्ष के बच्चे के खिलाफ सदरपुर थाना द्वारा रिपोर्ट दर्ज करने तथा उसकी गिरफ्तारी के लिए दबिश देने पर पुरष्कार देना चाहिए।

हरिश्चन्द्र श्रीवास्तव ने कहा राजधानी से लेकर प्रदेश भर में अपराधिक घटनाओं की बाढ़ सी आ गई है। लखनऊ शहर में अपराधी राजभवन के पास व गोमतीनगर में प्रातः महिला के चेन लूट लेते है मडि़याव में व्यापारी को लूटा जाता है। चंदौली में बैंक लूटा जाता है। सुल्तानपुर के सपा विधायक के भाई को गोली मारी गई मेरठ में पुलिस पिट जाती है। गोरखपुर में बैंक प्रबन्धक हत्या होती है और सुल्तानपुर में विस्फोट में चार लोग मर जाते है। मेरठ तथा खुर्जा व नोएडा मंे दो समुदायों के बीच गोलीबारी होती है।

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि वर्तमान सरकार में काूनन व्यवस्था इतनी लाचार स्थित में है कि मेरठ के फजलपुर में महिला के साथ बलात्कार करने के बाद अपराधियों का दुःसाहस यह कि महिला को निरवस्त्र करके घुमाते है। थाने में एसपी के दखल के बाद रिपोर्ट लिखी जाती है। अमरोहा और झांसी में बलात्कार की घटनाएं शर्मशार करने वाली है। सीतापुर जनपद के कमलापुर में शोहदे के भय से 3 छात्राएं स्कूल छोड़ने पर मजबूर होती है।

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि प्रदेश के युवा मुख्यमंत्री उ0प्र0 की कानून व्यवस्था को कोमा से निकालने में नाकाम है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री युवा है पर कानून व्यवस्था को भगवान भरोसे छोड़ रखा है।

Loading...