राजकोट में गिरफ्तार किए गए हार्दिक पटेल

नई दिल्ली। गुजरात में पटेल जाति के लोगों को आरक्षण दिलाने के आन्दोलन का नेतृत्व कर रहे युवा नेता हार्दिक पटेल को गुजरात पुलिस ने रविवार की दोपहर राजकोट-जामनगर हाइवे से एहतियातन गिरफ्तार कर लिया है। इससे पूर्व उन्हें समर्थकों के साथ राजकोट स्टेडियम की ओर जाने से रोका गया था। जहां भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच वन डे मुकाबले खेला जा रहा है।

जातिगत आरक्षण को लेकर पाटीदार अमानत आंदोलन समिति का नेतृत्व कर रहे हार्दिक पटेल ने पटेलों से अपील कर राजकोट वनडे मुकाबले की सारी टिकट खरीद कर स्टेडियम से अपने अन्दोलन को नई ऊंचाई देने की योजना बनाई थी। गुजरात क्रिकेट बोर्ड ने गुजरात सरकार की मदद से योजना को फेल करने के लिए टिकट बेंचने के दौरान इस बात का पूरा ध्यान रखा कि मैच के दौरान अन्दोलनकारी स्टेडियम के भीतर किसी प्रकार का प्रदर्शन न कर सकें। इसके बावजूद हार्दिक पटेल ने रविवार को अपने समर्थकों के साथ स्टेडियम में घुसने की कोशिश की लेकिन गुजरात पुलिस ने उन्हें दो किलोमीटर पहले ही रोक दिया। जिसके बाद उन्होंने एकबार फिर स्टेडियम की ओर बढ़ने की कोशिश की तो पुलिस ने उन्हें एहतियातन गिरफ्तार करना पड़ा।

मिली जानकारी के मुताबिक हार्दिक पटेल की धमकियों के चलते राजकोट वनडे के लिए बडे़ स्तर पर सुरक्षा इंतजामात किए गए हैं। स्टेडियम पर करीब 2500 पुलिस कर्मी तैनात किए गए हैं। महिला प्रदर्शनकारियों के प्रवेश पर निगरानी के लिए बड़े स्तर पर महिला सुरक्षाकर्मी भी तैनात की गई हैं।

आपको बता दें कि राजकोट वनडे के दौरान पटेल आरक्षण के प्रदर्शनकारियों की योजना को फेल करन के लिए राजकोट प्रशासन ने बीती राज मोबाइल इंटरनेट सेवाओं को रोक दिया था।