राजनीतिक सियासत के चलते बर्खास्त किया गया मुझे: आसिम अहमद खान

नई दिल्ली। भ्रष्टाचार में लिप्त रहने के आरोपों के चलते दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा बीते दिन मंत्री पद से बर्खास्त किए गए पूर्व खाद्य मंत्री आसिम अहमद खान ने अब केजरीवाल पर ही सवालिया निशान लगा दिये हैं। आसिम अहमद खान का कहना है कि उन्हे पार्टी की आंतरिक राजनीति और सियासत के चलते ही बर्खास्त किया गया है।

आसिम खान ने कहा कि बर्खास्त करने की खबर सुनकर जितना आश्चर्य आपको हुआ था, उतना ही मुझे भी, मेरे इस्तीफे की खबर 2 घंटे बाद पता चली। मुझे अरविन्द जी ने 3:30 बजे इस्तीफ़ा देने के लिए कहा था। इसके बाद मैं जब 6 बजे बाहर निकला तब पता चला कि उन्होने मुझे मंत्री पद से बर्खास्त कर दिया है। आसिम खान ने कहा कि मुझे मंत्री पद से हटाने के लिए साजिश की गई। मै इसका खुलासा करूंगा ।

आसिम ने खुलासा करते हुए बताया कि मेरे लाख मांगने के बाद भी अभी तक पार्टी ने इल्जाम की CD नहीं दी है। सवाल ये है कि 1 आवाज़ आसिम की है तो दूसरी किसकी है।  बिचौलिए का क्या नाम है, ये क्यों छुपाया गया।

उन्होने बताया कि दरअसल, जिनको विचौलिया कहा जा रहा है वो आम आदमी पार्टी के अल्पसंख्यक दिल्ली प्रदेश के उपाध्यक्ष हैं, दिल्ली सरकार में डायरेक्टर है। उत्तर प्रदेश की ज़िम्मेदारी भी उन्ही पर हैं। मुझे नहीं पता क्या पेश किया जा रहा है। इतने बड़े पदाधिकारी का नाम क्यों छुपा दिया गया। उनका नाम शकील मालिक है।

गौरतलब है कि अपने विधानसभा क्षेत्र में एक बिल्डर से रिश्वत लेने का कथित आरोप लगाते हुए अरविंद केजरीवाल ने आसिम अहमद खान को मंत्री पद से बर्खास्त कर दिया था। इस दौरान केजरीवाल ने ऑडियो क्लिप भी सुनाई थी और मामला जांच के लिए सीबीआई के पास भेज दिया था।