रिश्वत लेने के आरोप में यूएन के पूर्व अध्यक्ष सहित पाँच लोग गिरफ्तार

%e0%a4%b0%e0%a4%bf%e0%a4%b6%e0%a5%8d%e0%a4%b5%e0%a4%a4 %e0%a4%b2%e0%a5%87%e0%a4%a8%e0%a5%87 %e0%a4%95%e0%a5%87 %e0%a4%86%e0%a4%b0%e0%a5%8b%e0%a4%aa %e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82 %e0%a4%af%e0%a5%82

न्यूयार्क| रिश्वत लेकर सरकारी ठेका दिलवाने के आरोप मे संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएन) के पूर्व अध्यक्ष जॉन ऐश सहित पांच लोगों गिरफ्तार किया गया है| जॉन पर चीन के एक व्यापारी नजी लाप सेंग से 13 लाख डॉलर का रिश्वत लेने का आरोप है|   

न्यूयॉर्क पुलिस पुलिस ने जिन लोगों को गिरफ्तार किया है उसमे चीन के उद्योगपति एनजी भी शामिल है। इस मामले मे जांच चल रही है| जांच में आगे खुलासे हो सकते हैं| इस मामले मे जानकारी देते हुए मैनहट्टन के अटार्नी प्रीत भरारा ने बताया कि जॉन ने अपने फायदे के लिए अपनी पोस्ट का इस्तेमाल किया है|

उन्होने बताया कि उनके खिलाफ कई मामले हैं हम जांच कर रहें हैं| आगे भी कई नए खुलासे होने की संभावनाएं हैं| अगर जांच मे वो दोषी पाये जातें हैं तो उनके खिलाफ कार्यवाई की जाएगी| उन्होने कहा कि यूएन के पूर्व अध्यक्ष पर इस तरह के आरोप लगने का मतलब है कि देश में भ्रष्टाचार किस कदर फैला हुआ है| यूएन जैसी संस्था भी इससे अछूती नहीं| 61 वर्षीय जॉन 68वीं आमसभा के अध्यक्ष थे|  

जॉन पर आरोप लगा है कि उन्होने  2013 से 2015 के बीच चीन से 45 लाख डॉलर अमरीका लाने के लिए झूठा दावा किया था| इन पैसों से कलात्मक वस्तुएं खरीदना और रियल स्टेट मे इस्तेमाल करना था|    

न्यूयार्क| रिश्वत लेकर सरकारी ठेका दिलवाने के आरोप मे संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएन) के पूर्व अध्यक्ष जॉन ऐश सहित पांच लोगों गिरफ्तार किया गया है| जॉन पर चीन के एक व्यापारी नजी लाप सेंग से 13 लाख डॉलर का रिश्वत लेने का आरोप है|   न्यूयॉर्क पुलिस पुलिस ने जिन लोगों को गिरफ्तार किया है उसमे चीन के उद्योगपति एनजी भी शामिल है। इस मामले मे जांच चल रही है| जांच में आगे खुलासे हो सकते हैं| इस मामले मे जानकारी…