refer header लद्दाख में भारतीय सेना से पिटा चीन अलापने लगा तिब्बत का राग, क...
  1. हिन्दी समाचार
  2. लद्दाख में भारतीय सेना से पिटा चीन अलापने लगा तिब्बत का राग, कहा- भारत की कार्रवाई के पीछे अमेरिका

लद्दाख में भारतीय सेना से पिटा चीन अलापने लगा तिब्बत का राग, कहा- भारत की कार्रवाई के पीछे अमेरिका

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। भारत और चीन के बीच सीमा पर विवाद बढ़ता जा रहा है। भारतीय सेना के जवानों ने अपने पराक्रम और साहस से चीन के मंसूबों पर पानी फेर दिया है और घुसपैठ की कोशिश को नाकाम कर दिया। इसके साथ ही लद्दाख की सबसे उंचाई वाले हिस्से पर भी अपना कब्जा जमा लिया है। बुधवार को चीन विदेश मंत्रालय की ओर से एक प्रेस काफ्रेंस की गई।

पढ़ें :- पढाई का ऐसा जुनून रोज बॉर्डर पार करके स्कूल जाते है बच्चे, साथ रखते हैं पासपोर्ट

जिसमें चीन ने आरोप लगाया कि सीमा पर भारत ने ही समझौते को तोड़ा और LAC को पार कर इस ओर आ गया। बता दें कि चीन के इस दावे को भारत पहले ही नकार चुका है। इसके अलावा चीन ने इस विवाद पर तिब्बत और अमेरिका के एंगल को भी सामने रखा। चीनी विदेश मंत्रालय प्रवक्ता हुआ शुनयिंग ने कहा कि शनिवार को जो भी आमना-सामना हुआ, उसमें किसी भी भारतीय सेना के जवान की मौत नहीं हुई है।

यहां दावा किया गया था कि अमेरिकी मीडिया ने एक भारतीय जवान के मारे जाने की बात कही थी। प्रेस कॉन्फ्रेंस में जब सवाल पूछा गया कि क्या भारतीय सेना के जवानों के साथ तिब्बती लोग भी मदद के लिए आए थे। इसपर चीनी प्रवक्ता भड़क गईं और कहा कि ये आप भारत के लोगों से ही पूछिए। हमें सिर्फ इतना पता है कि तिब्बती लोगों और CIA के बीच में काफी संबंध रहे हैं।

हम भारत समेत ऐसे किसी भी देश का विरोध करते हैं जो तिब्बतियों को अपने यहां शरण देते हैं। चीन की ओर से कहा गया कि तिब्बत के मसले पर ध्यान देना होगा, इसमें अमेरिका की ओर से भी काफी रोल है। अब भारत और तिब्बत के सैनिकों के बीच क्या संबंध है, इसके बारे में हम जानने को उत्सुक हैं।  आपको बता दें कि लद्दाख में भारतीय सेना की जिस विकास रेजिमेंट ने चीन को मात दी है, उसमें तिब्बती मूल के कुछ जवान भी शामिल थे। जिन्हें पहाड़ी इलाकों की काफी अच्छी जानकारी होती है, यही कारण है कि चीन बौखलाया हुआ है।

 

पढ़ें :- यूपी : 31661 सहायक शिक्षकों की भर्ती का योगी सरकार ने जारी किया आदेश

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...