लापता दुकानदार का शव बरामद, पुलिस बता रही आत्महत्या

%e0%a4%b2%e0%a4%be%e0%a4%aa%e0%a4%a4%e0%a4%be %e0%a4%a6%e0%a5%81%e0%a4%95%e0%a4%be%e0%a4%a8%e0%a4%a6%e0%a4%be%e0%a4%b0 %e0%a4%95%e0%a4%be %e0%a4%b6%e0%a4%b5 %e0%a4%ac%e0%a4%b0%e0%a4%be%e0%a4%ae

लखनऊ। राजधानी के बीकेटी इलाके में एक परचून दुकानदार का शव पड़ा मिला। शव दो दिन पुराना हो चुका था। दुकानदार बीते 8 अक्टूबर से लापता था। बीकेटी पुलिस का कहना है कि दुकानदार ने आत्महत्या की है। पुलिस को उसके मोबाइल फोन के मैसेज बाक्स से एक सुसाइट नोट भी मिला है।
 
एसओ बीकेटी विजय शंकर यादव ने बताया कि रविवार की सुबह चंद्रिका देवी रोड पर स्थित जीसीआरजी कालेज के पास लोगों ने एक युवक का शव पड़ा देखा। सूचना पर पहुंची पुलिस को छानबीन के दौरान मौके से एक बाइक व एक मोबाइल फोन मिला। फोन की मदद से पुलिस ने युवक की शिनाख्त मडिय़ांव के बसंत विहार निवासी महेश प्रसाद के बेटे 23 वर्षीय अजय कुमार रैदास के रूप में की।
 
खबर पाकर अजय के परिवार के लोग भी मौके पर पहुंच गये। उन लोगों ने शव की पहचान अजय के रूप में की। परिवार वालों ने बताया कि अजय बीते 8 अक्टूबर को घर से निकला था और फिर गायब हो गया। आज वह लोग उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट मडिय़ांव कोतवाली में दर्ज कराने के लिए जा रहे थे।
 
एसओ बीकेटी ने बताया कि छानबीन के दौरान अजय के मोबाइल फोन के मैसेज बाक्स से एक सुसाइड नोट भी मिला है। नोट में अयज ने अपनी मर्जी से आत्महत्या करने की बात लिखी थी। इस मैसेज के आधार पर पुलिस का कहना है कि अजय ने आत्महत्या की है। फिलहाल इस बात का पता नहीं चल सका है कि अजय ने आत्महत्या किन कारणों के चलते की।
लखनऊ। राजधानी के बीकेटी इलाके में एक परचून दुकानदार का शव पड़ा मिला। शव दो दिन पुराना हो चुका था। दुकानदार बीते 8 अक्टूबर से लापता था। बीकेटी पुलिस का कहना है कि दुकानदार ने आत्महत्या की है। पुलिस को उसके मोबाइल फोन के मैसेज बाक्स से एक सुसाइट नोट भी मिला है। एसओ बीकेटी विजय शंकर यादव ने बताया कि रविवार की सुबह चंद्रिका देवी रोड पर स्थित जीसीआरजी कालेज के पास लोगों ने एक युवक का शव पड़ा देखा। सूचना…