वाराणसी में हालत के लिए अखिलेश सरकार जिम्मेदार: बीजेपी

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ0 लक्ष्मीकान्त बाजपेयी ने वाराणसी में प्रतिकार यात्रा पर पुलिस द्वारा किये गयेे बर्बता पूर्वक लाठी चार्ज की कडे शब्दो में निन्दा की है। डाॅ0 बाजपेयी ने वाराणसी में हालात के बेकाबू होने और बडे़ इलाके में कर्फ्यू के लिए अखिलेश सरकार को दोषी ठहराया। उन्होंने कहा कि गणेश प्रतिमा विसर्जन के दौरान संतो के ऊपर अमानवीय ढ़ग के किये गये लाठी चार्ज के पश्चात ही वाराणसी में आमजन में अखिलेश सरकार के प्रति आक्रोश था। भाजपा ने वहां के डी.एम, एस.एस.पी., एस.पी. सिटी समेत दोषी अधिकारियों के ऊपर कड़ी कार्यवाही की मांगी की थी। किन्तु अखिलेश सरकार अपनी नीतिगत अपंगता के कारण हाथ पर हाथ धरे बैठी रही। जिसका परिणाम आज वाराणसी की जनता कर्फ्यू के रूप में झेल रही है।

डाॅ0 बाजपेयी ने कहा कि अखिलेश सरकार की भेद-भाव पूर्ण नीतियां और सम्प्रदाय व मजहव के आधार पर वोट बैंक की राजनीति करने के कारण पूरे प्रदेश में अराजकता का माहौल है। सपा सरकार राज्य में कानून व्यवस्था कायम रख पाने में विफल सबित हुई है। उन्होंने कहा कि अखिलेश सरकार की लापरवाही की वजह से वाराणसी के हालात खराब हो गये। अगर सरकार पहले ही संतो के ऊपर हुए लाठी चार्ज की घटना को गम्भीरता से लेते हुए दोषी पुलिस प्रशासन के अधिकारियों के विरूद्ध कार्यवाही करती तो शायद ये नौबत न आती। उन्होंने कहा पिछली घटना से सबक लेने के बजाय आज भी प्रतिकार यात्रा में शामिल लोंगो पर जिस तरीके से पुलिस ने बर्बर लाठी चार्ज किया उससे ऐसा लगता है कि यह सब ऊपर से मिले आदेशों के बाद किया गया।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने मांग किया की प्रतिकार यात्रा में शामिल लोंगो पर लाठी चार्ज करने वाले वाराणसी के जिलाधिकारी एव पुलिस कप्तान सहित सभी दोषियों को तत्काल निलंम्बित कर उनके विरूद्ध कार्यवाही की जाय और लाठी चार्ज में घायल लोगो को राज्य सरकार मुआवजा दें। साथ ही पूरे मामले की उच्च-न्यायलय के सिटिंग जज से जांच कराने की भी मांग की।

Loading...