वाह रे यूपी पुलिस, 2 साल के दुधमुहें बच्चे को ही बना दिया अपराधी

सीतापुर| उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था का हाल किसी से छुपा नहीं है। यहाँ अपराधी खुलेआम अपराध को अंजाम दे रहे हैं, अपराधियों में पुलिस का खौफ खत्म हो गया है। वहीं पुलिस भी अब गुंडागर्दी रोकने की बजाय मासूम बच्चों को ही गुंडा और अपराधी बनाने पर तुली हुई है। इसका एक मामला सीतापुर में देखने को मिला, यहां सदरपुर थानाध्यक्ष ने एक चोरी के मामले में दो साल केएक मासूम के विरुद्ध वादी की तहरीर के आधार पर न सिर्फ मुकदमा पंजीकृत किया बल्कि आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए उसके घर छापा भी मार दिया। जब हकीकत सामने आयी तो पुलिस के पैरों के नीचे जमीन खिसक गयी।

जानकारी के तहत थाना सदरपुर क्षेत्र के ग्राम बजेहरा निवासी अमित के यहां बीती 20 सितम्बर को चोरी हुई थी। इस मामले में पुलिस के हत्थे भारत पुत्र गजोधर निवासी ग्राम मरखापुर निवासी नामक चोर चढ़ा था। पुलिस के अनुसार पकड़े गये चोर ने अपने तीन अन्य साथियों के नाम बताये थे जिसमें रवि, ब्रजलाल निवासी मरखापुर तथा कलवा निवासी शिवपुर शामिल थे। पुलिस ने नाच गाने का काम करने वाले ब्रजलाल को उस वक्त दबोचा जब वह 24 सितम्बर की रात को ग्राम गुलरहिया में जलबिहार के मेले में नाटक के दौरान नाच गाना कर रहा था।

{ यह भी पढ़ें:- अखिलेश की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में मुलायम के करीबियों को जगह, शिवपाल नदारद }

इसके बाद पुलिस ब्रजलाल के घर पहुंची जहां उसे रवी की तलाश थी। छापा के दौरान जब परिजन रवी को लेकर पुलिस के सामने पहुंचे तो खाकी धारियों के पैरो के तले से जमीन खिसक गयी। रवी कोई और नही बल्कि दो वर्ष का दुधमुहां बच्चा था। पुलिस वहां से चली आयी और परिजनों को बुलाकर धमकी दी कि या तो बीस हजार रूपये दा या फिर रवी को हम जेल भेज देगें। डरे परिजन 25,26 तथा 27 के अवकाश समापन के बाद डरे सहमे भागे सीतापुर कचहरी आये और अपने वकील शिवेन्द्र प्रताप वर्मा से मिले तथा उन्हे पूरी कहानी सुनायी।

इससे परेशान होकर रवि का पिता उसे लेकर आज सुबह जिला न्यायालय में समर्पण के लिए आ पहुंचा। जिस पर जज भी इस मामले को सुन कर चौंक गये और उन्होंने मासूम के समर्पण को अस्वीकार कर दिया। जिस पर रवि के पिता उदयराज अपने अधिवक्ता के साथ एसपी कार्यालय पहुचें जहां पर कोई पुलिस का अधिकारी नहीं मिला जिस पर मायूस होकर पिता पुत्र दोनो वापस अपने घर लौट गये।

{ यह भी पढ़ें:- नाबालिग गैंगरेप पीड़िता ने किया सुसाइड, CM योगी ने दिया था सुरक्षा का भरोसा }