साजिश के तहत मेरे राजनीतिक करियर को बर्बाद करने की चाल है: तेजस्वी

पटना लालू के परिवार की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही है| विपक्षी पार्टियाँ लालू समेत पूरे परिवार को घेरने में लगी हुई है वहीं लालू समेत पूरा परिवार भ्रष्टाचार के आरोपों पर सफाई देता नज़र आ रहा है| लालू ने इन आरोपों के पीछे केंद्र सरकार का हाथ बताया है वहीं अब इसी कड़ी में लालू के छोटे बेटे व बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने भी इसे ‘राजनीतिक साजिश’ करार दिया है| साथ ही तेजस्वी ने यह भी कहा है कि यह न केवल लालू प्रसाद के परिवार को, बल्कि बिहार को बदनाम करने की साजिश है। तेजस्वी ने अपने ऊपर लगे आरोपों को ‘राजनीतिक साजिश’ करार देते हुए कहा कि यह मामला 2004 का है और उस वक्त उनके पास न तो सत्ता थी और न ही पद था।

मंत्रिमंडल की बैठक में भाग लेने के बाद उन्होंने संवाददाताओं से कहा, “मैंने कोई भ्रष्टाचार नहीं किया। जब मैं बड़ा हुआ, तब सत्ता मेरे पास आई। मामला जिस वक्त का है, उस वक्त मेरी उम्र 13-14 साल की थी, तो मैं क्या भ्रष्टाचार करूंगा! राजनीतिक साजिश रचकर मुझे फंसाने की कोशिश की गई। हमारी मूंछ तक नहीं आई थी, हम क्या गलत करेंगे?” बिहार में महागठबंधन की सरकार चल रही है और आगे भी चलेगी। महागठबंधन को कोई खतरा नहीं है। जनता ने हमें चुनकर भेजा है और हम सभी तथ्य उनके सामने रखेंगे।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पर भी निशाना साधते हुए तेजस्वी ने कहा कि यह बात तो सभी जानते हैं कि भाजपा लालू प्रसाद से डरती है, लेकिन केंद्र सरकार एक 28 साल के युवक से डर गई।उन्होंने कहा कि अमित शाह और नरेंद्र मोदी को जवाब दिया जाएगा और बिहार से ही नहीं, बल्कि पूरे देश से भाजपा का सफाया कर दिया जाएगा। उन्होंने दावा किया कि बिहार के युवा, गरीब, नौजवान सभी उनके साथ हैं।