सूखे से त्रस्त किसानों के प्रति सपा सरकार उदासीन: भाजपा

%e0%a4%b8%e0%a5%82%e0%a4%96%e0%a5%87 %e0%a4%b8%e0%a5%87 %e0%a4%a4%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a4%b8%e0%a5%8d%e0%a4%a4 %e0%a4%95%e0%a4%bf%e0%a4%b8%e0%a4%be%e0%a4%a8%e0%a5%8b%e0%a4%82 %e0%a4%95%e0%a5%87

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी ने आरोप लगाया है कि सूखे से त्रस्त प्रदेश के किसानों के प्रति सपा सरकार उदासीन है। भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि सूखे के कारण धान की 50 से 80 प्रतिशत तक फसलें तबाह हो गई है। इसी तरह दलहन की फसलों का 40 प्रतिशत तक नुकसान हुआ है। श्रीवास्तव ने प्रदेश सरकार से किसानों के लिए तत्काल राहत पैकेज दिये जाने तथा रबी की फसलों के मद्दे नजर किसानों को सिंचाई के लिए नहरों में पानी, 12 से 18 घंटे विद्युत आपूर्ति तथा डीजल में सब्सिडी दिये जाने की मांग की है।

प्रदेश प्रवक्ता ने पत्रकारों से कहा कि 2015 को राज्य सरकार ने किसान वर्ष घोषित किया, लेकिन लगातार दो वर्ष से सूखे की मार झेल रहे प्रदेश के किसानो को राहत पंहुचाने के नाम पर सरकार के पास अब तक जिलों में सूखे से हुई फसलों के नुकसान का आकलन तक नहीं है। उन्होंने कहा कि सितम्बर में 77 प्रतिशत कम वारिस हुई जबकि औसत पूरे प्रदेश में औसत 47 प्रतिशत बारिस कम हुई , भाजपा प्रवक्ता ने कहा अम्बेडकर नगर,फतेहपुर कौशाम्बी, कानपुर देहात, कुशीनगर तथा रायबरेली में 13 प्रतिशत से लेकर 28 प्रतिशत तक ही वारिस हुई है जबकि प्रदेश के लगभग 10 जिले ऐसे है जिसमें औसत वारिस 30 प्रतिशत से 40 प्रतिशत के बीच ही हुई है।

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी ने आरोप लगाया है कि सूखे से त्रस्त प्रदेश के किसानों के प्रति सपा सरकार उदासीन है। भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि सूखे के कारण धान की 50 से 80 प्रतिशत तक फसलें तबाह हो गई है। इसी तरह दलहन की फसलों का 40 प्रतिशत तक नुकसान हुआ है। श्रीवास्तव ने प्रदेश सरकार से किसानों के लिए तत्काल राहत पैकेज दिये जाने तथा रबी की फसलों के मद्दे नजर किसानों को सिंचाई के लिए नहरों में…