स्वराज ने लिया जीसीसी संयुक्त मंत्रिस्तरीय बैठक में हिस्सा, द्विपक्षीय मुद्दों पर की बातचीत

नई दिल्ली। भारत की स्थिति को मजबूती देने की कवायद में जुटी केंद्र सरकार ने एक दिशा में एक कदम और बढ़ाया है। एक तरफ जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने विदेश दौरे के माध्यम से डिजिटल इंडिया की सौगात अमेरिका तक पहुंचाई है वहीं विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अरब देशों से रिश्तों को मजबूती देने की दिशा में क्रियान्वित दिख रही है।

दरअसल, सुषमा स्वराज ने खाड़ी सहयोग परिषद (जीसीसी) के अपने समकक्षों से मुलाकात की। इस बात की जानकारी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट ट्विटर के माध्यम से दी है। उन्होने ट्वीट किया, ‘पुराने मित्र, नए साझेदार : विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की जीसीसी संयुक्त मंत्रिस्तरीय बैठक के दौरान द्विपक्षीय मुद्दों पर बातचीत।‘

मालूम हो कि जीसीसी एक क्षेत्रीय अंतर-सरकारी राजनीतिक एवं आर्थिक संघ है, जिसमें इराक को छोड़कर फारस की खाड़ी के सभी अरब देश शामिल हैं। इसके सदस्य देशों में तेल उत्पादक देश बहरीन, कुवैत, ओमान, कतर, सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पिछले महीने यूएई के दौरे के बाद यह मंत्रिस्तरीय बैठक हुई है।

Loading...