हरियाणा: दलित नाबालिग की पुलिस हिरासत में मौत

गोहाना| हरियाणा में एक ही हफ्ते मे दलित की ह्त्या का दूसरा मामला सामने आया है| यहाँ गोहाना में 15 साल के एक बच्चे की मौत पुलिस हिरासत में होने से शहर में आक्रोश है| पुलिस ने लड़के को कबूतर चोरी करने के आरोप में हिरासत में लिया था|

मृतक बच्चे के घरवालों ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि पुलिस वाले मृतक गोविंद को छोडने के लिए पैसे की मांग कर रहे थे| पहले घरवालों ने पुलिस को दस हजार रुपये दिये| उसके बाद भी पुलिस ने उनके लड़के को नहीं छोड़ा और पांच हजार की मांग की| दूसरे दिन जब मृतक की माँ पैसे लेकर थाने पहुंची तो उसे बताया गया कि तुम्हारा लड़का भाग गया है|

बाद मे गोविंद का शव पंखे लटकता संदिग्द अवस्था मे पाया गया| घरवालों का आरोप है कि लड़के की ह्त्या की गई है| मृतक के शरीर पर चोट के निशान थे| घरवालों का कहना है कि गोविंद की मौत पुलिस के बेरहमी से गई पिटाई से हुयी है|

वहीं गोविंद की मौत से नाराज परिजनो ने घंटों रेलवे लाइन जाम कर के रखा| बढ़ते आक्रोश को देखते हुये प्रशासन ने पीड़ित परिवार को तीन लाख का मुआवजा देने का ऐलान करते हुये और दो पुलिसवालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया|

पुलसी ने शव को कब्जे मे लेते हुये परीक्षण के लिए रोहतक पीजीआई भेजा है| पुलिस के आला अधिकारियों ने परिजनो को निष्पक्ष जांचा का आश्वासन दिया है|