डाकघरों में फिर से जमा हुए पुराने नोट

लखनऊ। डाक प्रशासन ने सभी डाकघरों को आदेश जारी किया है कि बचत खातों में पुराने नोट जमा करने की प्रक्रिया जारी रखें। नये निर्देश के बाद गुरुवार को सभी डाकघरों में फिर से पुराने नोट जमा करने का कार्य किया गया। बुधवार को बड़ी संख्या में डाकघरों ने पुराने नोट लेने से मना कर दिया था। इसी भ्रम के चलते डाक विभाग को यह आदेश जारी करना पड़ा। आदेश में यही भी कहा गया है कि पुराने नोट केवल बचत खातों में ही जमा किये जाएंगे।




लखनऊ मंडल के प्रवर अधीक्षक का निर्देश प्राप्त होने के बाद गुरुवार को राजधानी के सभी 127 डाकघरों में पुराने नोट जमा करने का काम शुरू किया गया। शाम पांच बजे तक लगभग 11 करोड़ रुपये की धनराशि डाकघरों में जमा की गयी। पुराने नोट से सुकन्या समृद्धि योजना, किसान विकास पत्र व अन्य बचत योजनाओं में जमा करने का कार्य बंद कर दिया गया है।




जीपीओ, चौक प्रधान डाकघर, निरालानगर, अलीगंज, न्यू हैदराबाद, इन्दिरा नगर, गोमती नगर, महानगर, विकासनगर, राजेन्द्र नगर, राजाजीपुरम व शहर के अन्य प्रमुख डाकघरों के साथ ही 55 डाकघरों में पुराने नोट बदलने का कार्य किया गया। गुरुवार को डाकघरों में लगभग 75 लाख के पुराने नोटों के बदले नयी करेंसी प्रदान की गयी। खातों में जमा होने वाली रकम में कोई कमी नही हो रही है। जीपीओ व चौक प्रधान डाकघर में नोट बदलने की कतारों की लम्बाई लगातार कम हो रही है।