1. हिन्दी समाचार
  2. हथिनी के हत्यारों पर 1.5 लाख हुआ इनाम, पूरे देश में हो रही इस अमानवीय घटना की निंदा

हथिनी के हत्यारों पर 1.5 लाख हुआ इनाम, पूरे देश में हो रही इस अमानवीय घटना की निंदा

1 5 Lakh Reward On Hathinis Killers Condemning This Inhuman Incident Taking Place Across The Country

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

कोच्चि: केरल के मलप्पुरम में गर्भवती हथिनी की मौत को लेकर पूरे देश में इस घटना की निंदा हो रही है। इस अमानवीय घटना में शरारती तत्वों ने अनानास में पटाखे रखकर हथिनी को खिला दिए, जिससे वह बुरी तरह से घायल हो गई थी। घायल हथिनी इतने दर्द में थी कि तीन दिनों तक वह कुछ खा-पी नहीं पाई और लगातार पानी में खड़ी रही। आखिर उसकी मौत हो गई। हथिनी के साथ इस अमानवीय घटना करने वालों पर इनाम रखा गया है। वाइल्ड लाइफ एसओएस एनजीओ ने अपराधियों की सूचना देने वाले को एक लाख रुपये देने का ऐलान किया है। वहीं दूसरी ओर ह्यूमेन सोसायटी इंटरनैशनल/इंडिया ने 50 हजार रुपये इनाम का ऐलान किया है।

पढ़ें :- पढाई का ऐसा जुनून रोज बॉर्डर पार करके स्कूल जाते है बच्चे, साथ रखते हैं पासपोर्ट

वाइल्ड लाइफ एसओएस ने कहा है कि हथिनि को पटाखे वाला अनानास खिलाने वाले की सूचना और उसके खिलाफ सबूत देने वाले शख्स को एक लाख रुपये का इनाम दिया जाएगा। संस्था ने कहा है कि लोग एलिफैंट हॉटलाइन- 9971699727 या ईमेल info@wildlifesos.org पर इसकी सूचना दे सकते हैं।

‘गुप्त रखी जाएगी जानकारी देने वाली की पहचान’
ह्यूमेन सोसायटी इंटरनैशनल संस्था के कैंपेन मैनेजर सुमंत बिंदुमाधव ने कहा है, ‘इस घटना के दोषियों के बारे में जानकारी देने वाले किसी भी शख्स को हम प्रोत्साहित करेंगे। उसे 50 हजार रुपये का इनाम दिया जाएगा। अगर आप चाहेंगे तो हम आपका नाम भी गुप्त रखेंगे। हम उम्मीद करते हैं कि इस केस में दोषियों को सख्त से सख्त सजा हो, जिससे समाज में कड़ा संदेश जाए और कोई दोबारा ऐसी हरकत ना करे।’

जारी किया वॉट्सऐप नंबर
जानवरों के खिलाफ अमानवीयता, उनके शोषण और अन्य गलत व्यवहारों के खिलाफ काम करने वाली इस संस्था ने लोगों से इस घटना के अलावा ऐसी किसी अन्य घटना के बारे में भी जानकारी देने के लिए अपना वॉट्सऐप नंबर (7674922044) जारी किया है।

केरल वन विभाग ने भी इस मामले की जांच शुरू कर दी है। अधिकारियों ने बताया कि हथिनी 27 मई को मन्नारकड फॉरेस्ट डिविजन के वेल्लियार रिवर में मिली थी। वह एक महीने की गर्भवती थी।

पढ़ें :- यूपी : 31661 सहायक शिक्षकों की भर्ती का योगी सरकार ने जारी किया आदेश

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...