झेलम एक्सप्रेस हादसे का शिकार, 10 डिब्बे पटरी से उतरे

लुधियाना: पंजाब के लुधियाना जिले में झेलम एक्सप्रेस यात्री रेलगाड़ी के 10 डिब्बे पटरी से उतर गए, जिससे कम से कम तीन लोग घायल हो गए हैं। रेल मंत्रालय ने ट्वीट कर बताया कि घायलों को लुधियाना के सिविल अस्पताल में भर्ती किया गया है। यह घटना सुबह लगभग 3.10 बजे चंडीगढ़ से 125 किलोमीटर दूर फिलौर के पास हुई।





रेलगाड़ी के सतलुज नदी के पुल से पहले ही पटरी से उतरने से कोई बड़ी घटना होने से बच गई। रेलवे मंत्रालय ने ट्वीट कर कहा, “11078 (झेलम एक्सप्रेस) उत्तर रेलवे के फिरोजपुर डिवीजन के तहत आने वाले फिल्लौर-लाडोवाल रेल खंड पर सतलुज नदी पुल के करीब पटरी से उतर गई। इसमें कोई हताहत नहीं हुआ है लेकिन दो लोग मामूली रूप से घायल हुए हैं।”

मंत्रालय ने बताया, “जो डिब्बे पटरी से उतरे हैं उनमें बी5, एस1, पेंट्री कार, एस2, एस4, एस5, एस6, एस7 और एस8 हैं। घायलों को लुधियाना के सिविल अस्पताल ले जाया गया है। घटनास्थल पर तीन बसें पहुंच गई हैं।” रेलगाड़ी फिल्लौर और लुधियाना के बीच पटरी से उतरी है। रेलगाड़ी में 24 डिब्बे थे। यह रेलगाड़ी जम्मू तवी और पुणे के बीच चलती है। रेलवे प्रवक्ता ने बताया कि इस घटना से लुधियाना-जालंधर के बीच रेल यातायात प्रभावित हुआ है क्योंकि दोनों ट्रैक रेलगाड़ी के पटरी से उतनरे से बाधित हुए हैं। प्रवक्ता ने बताया, “सभी यात्री सुरक्षित हैं। कोई हताहत नहीं हुआ है।”

प्रवक्ता ने बताया, “कुछ रेलगाड़ियों को रद्द कर दिया गया है जबकि कुछ का मार्ग परिवर्तित कर दिया गया है। उत्तरी रेलवे पीड़ित लोगों की सूची जारी करेगी। यह घटना उत्तरी रेलवे के फिरोजपुर खंड में हुई है।” इस घटना के कुछ ही समय बाद बचाव एवं राहत दल की टीमें घटनास्थल पर पहुंच गई। दुर्घटनाग्रस्त रेलगाड़ी के यात्रियों ने तीनों घायलों को सकुशल बाहर निकाला। घायलों में एक महिला और एक बच्चा भी है। एक शख्स गंभीर रूप से घायल है।

रेल में सवार बाकी यात्रियों को लुधियाना ले जाया गया है ताकि वह वहां से अन्य रेलगाड़ियों से अपने गंतव्य स्थल तक पहुंच सकें। रेलवे प्रशासन ने क्षतिग्रस्त रेलवे ट्रैक की मरम्मत का काम शुरू कर दिया है।