आपका दिल दहल जाएगा ये वीडियो देखकर, 10 महीने की बच्ची की बेरहमी से पिटाई

10 Month Old Girl Brutally Beaten Up By Maid In Day Care Centre In Navi Mumbai

मुंबई। इस खबर का सरोकार उन सभी माँ बाप के लिये है जो नौकरीपेशा है और उनके मासूम बच्चे उनकी गैरहाज़िरी में प्ले स्कूल में रहते है। जी हाँ, हमारा मकसद आपको डराना नहीं है बल्कि आगाह करना है क्योंकि मुंबई में जो हुआ है वो कही आपके चहेते के साथ ना हो सके। बच्चों को भगवान का रूप कहा जाता है कहते है बच्चों की मुस्कान फूलों से भी प्यारी होती है और उनकी शरारत एक हसीन याद बन जाती है, लेकिन इस दुनिया में ऐसे लोग भी है जो शैतान का रूप लेकर आये है ऐसी ही एक हैवान महिला कि करतूत नवी मुंबई से सामने आयी है, इस हैवान महिला ने प्ले स्कूल में एक बच्चे की बेहरमी से पिटाई करि जिसका सीसीटीवी फुटेज वायरल हो रहा है। पीड़ित बच्ची अस्पताल में भर्ती है। बच्ची पर क्रूरता करने वाली महिला प्ले स्कूल की आया बतायी जा रही है।




खारघर सेक्टर-10 में रहने वाले रजत जो पेशे से इंजीनियर हैं और उनकी पत्नी रुचिता ने अपनी बिटिया को पूर्वा डे केयर में रखने का फैसला किया लेकिन अब वे बहुत पछता रहे हैं। जब वह बिटिया को प्ले स्कूल से लेने आए तो उसके चेहरे शरीर पर कई ज़ख्म थे। दोनों के मुताबिक प्ले स्कूल ने उन्हें बताया कि बच्ची को खेलते वक्त चोट लग गई है, लेकिन जब वह घर पहुंचे तो बिटिया लगातार रो रही थी। उसकी पीठ पर भी चोट के निशान थे, प्ले स्कूल से उन्होंने सीसीटीवी की मांग की तो रुचिता के मुताबिक उन्होंने कहा कि पहले वो पुलिस में शिकायत दर्ज करवाएं। पुलिस की दखलंदाज़ी के बाद प्ले स्कूल ने फुटेज दिया।




तस्वीरें दिल दहला देने वाली थीं। इसमें आरोपी 10 महीने की मासूम बच्ची की पहले हाथ से पिटाई करती है और जब वह रोने लगती है तो उसे उठा कर पटक देती है। इसके बाद भी जब बच्ची चुप नहीं होती है तो दरिंदगी की सारी हदें पार करते हुए आया बच्ची को बुरी तरह उठा-उठा कर पटकती है। वीडियो में डे केयर के बाकी चार बच्चे डर से चुपचाप लेटे हुए नजर आ रहे हैं।




बच्ची की पिटाई के आरोप में प्ले स्कूल की आया अफसाना नासिर शेख और मालकिन प्रियंका निकम को गिरफ्तार कर लिया गया था। गुरुवार को दोनों को अदालत में पेश किया गया। अदालत ने अफसाना को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजते हुए प्रियंका को जमानत पर रिहा करने का आदेश दिया। बच्ची को नवी मुंबई के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 335, 34 और जेजे एक्ट की धारा 23 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

मुंबई। इस खबर का सरोकार उन सभी माँ बाप के लिये है जो नौकरीपेशा है और उनके मासूम बच्चे उनकी गैरहाज़िरी में प्ले स्कूल में रहते है। जी हाँ, हमारा मकसद आपको डराना नहीं है बल्कि आगाह करना है क्योंकि मुंबई में जो हुआ है वो कही आपके चहेते के साथ ना हो सके। बच्चों को भगवान का रूप कहा जाता है कहते है बच्चों की मुस्कान फूलों से भी प्यारी होती है और उनकी शरारत एक हसीन याद बन…