1. हिन्दी समाचार
  2. नोएडा में सामने आए कोरोना संक्रमण के 100 केस, शहर का करीब-करीब आधा हिस्सा सील

नोएडा में सामने आए कोरोना संक्रमण के 100 केस, शहर का करीब-करीब आधा हिस्सा सील

100 Cases Of Corona Infection Revealed In Noida Sealing Almost Half Of The City

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

नोएडा: उत्तर प्रदेश और दिल्ली की सीमा पर स्थित गौतम बुद्ध नगर जिले का आधा हिस्सा करीब-करीब सील कर दिया गया है। इलाके कंटेनमेंट जोन बना दिए गए हैं और तमाम गलियों से लेकर तमाम रिहाइशी सोसायटी तक के हिस्से ऐसे बन गए हैं, जिनमें किसी को भी आने-जाने या बाहर निकलने की इजाजत नहीं है। यह स्थिति इसलिए है क्योंकि गौतमबुद्ध नगर जिला प्रदेश के सर्वाधिक कोरोना प्रभावित हिस्से में से एक है और सोमवार की शाम तक यहां पर 100 पॉजिटिव केस रिपोर्ट किए जा चुके हैं।

पढ़ें :- रामपुर:मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी की चौदह सौ बीघा जमीन सरकार के नाम करने के आदेश,जाने पूरा मामला

गौतम बुद्ध नगर के जिलाधिकारी सुहास एलवाई का कहना है कि नोएडा में कोरोना के केसों को देखते हुए तमाम क्लस्टरों की पहचान की गई है, जिन्हें सील कर दिया गया है। इन क्लस्टरों के पांच किलोमीटर के दायरे में सड़क पर बैरिकेडिंग की गई है और पुलिसकर्मियों की मदद से क्लस्टर के आसपास के इलाकों में लोगों की आवाजाही को रोका जा रहा है। जिला प्रशासन के बयान के अनुसार, नोएडा में सोमवार को कोरोना के तीन पॉजिटिव केस मिले हैं। रविवार को जिला प्रशासन की ओर से नोएडा के तमाम हिस्सों को कंटेनमेंट जोन घोषित करने की दिशा में पूरी योजना बनाई गई है।

प्लान के मुताबिक, शहर के 33 हॉटस्पॉट के 1 किलोमीटर के दायरे को पूरी तरह से सील करने का फैसला किया गया है। इसके अलावा क्लस्टर बने इलाकों में तीन किलोमीटर और बफर जोन बने हिस्सों के 2 किलोमीटर के दायरे में लोगों की मूवमेंट को पूरी तरह से प्रतिबंधित करने का फैसला किया गया है। गौतम बुद्ध नगर जिले में कुल 12 क्लस्टर हैं, जिनमें 90 हजार घरों और 3.32 लाख लोगों को कंटेनमेंट जोन में रखा गया है।

अगर पूरे गौतम बुद्ध नगर जिले की बात करें तो यहां पर कुल 24 लाख लोगों की जनसंख्या है। जिला प्रशासन के अधिकारियों के अनुसार, नोएडा में कोरोना के बफर जोन बने इलाकों में सिर्फ दवा, किराना और जरूरी सामान की दुकानों को खुलने की इजाजत दी गई है। प्रशासन ने इन दुकानों पर भी सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन करने और पूरी सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं।

पढ़ें :- महराजगंज:सिसवा को हरा बड़हरा की टीम बनी विजेता

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...